रवि शास्त्री ने बताया ये दो खिलाड़ी टीम के लिए करेंगे साउथ अफ्रीका के दौरे पर ओपनिंग - क्रिकट्रैकर हिंदी

रवि शास्त्री ने बताया ये दो खिलाड़ी टीम के लिए करेंगे साउथ अफ्रीका के दौरे पर ओपनिंग

Ravi Shastri
Ravi Shastri. (Photo Source: Twitter)

श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट और वनडे सीरीज जीतने के बाद जहां टीम इण्डिया इस साल की अपनी अंतिम सीरीज टी20 फॉर्मेट में खेलने जा रही है, वहीँ भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री ने अगले साल की शुरुआत में शुरू होने वाली साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के लिए तैयारी अभी से शुरू कर दी है.

अनिल कुम्बले के भारतीय टीम के कोच पद से इस्तीफा देने के बाद रवि शास्त्री ने इस पद को बखूबी संभाला और भारतीय टीम ने अब तक उनके कार्यकाल में काफी शानदार खेले दिखाते हुए सभी फॉर्मेट में अपना वर्चस्व कायम किया है, लेकिन शास्त्री और टीम इण्डिया का असली इम्तिहान अगले साल शुरू होने वाले विदेशी दौरों से होगा.

नम्बर 1 का खिताब बचाने की चुनौती

भारतीय टीम इस समय आईसीसी की टेस्ट रैंकिंग में नंबर 1 पर काबिज है और अगले साल उसे तीन ऐसे विदेशी दौरे करने हैं जहाँ उसे अपने इस खिताब को बचाने के सबसे बड़ी चुनौती होगी जिसमे उसके सामने सबसे पहले साउथ अफ्रीका के रूप में एक कदा इम्तिहान होगा और इस सीरीज के लिए भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री ने टीम इण्डिया के इस दौरे पर ओपनिंग बल्लेबाजी के लिए अपनी पसंद को पहले ही बता दिया हैं.

शास्त्री ने सीएनएन 18 को दिए अपने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि “हम साउथ अफ्रीका के दौरे पर बाएं और दायें हाथ के कॉम्बिनेशन के साथ उतरेंगे जिसमे हमारे पास शिखर और मुरली विजय के साथ लोकेश राहुल भी मौजूद हैं और तीनों इस समय फॉर्म में भी हैं. जहाँ मुरली विजय ने इंजरी के बाद शानदार वापसी करते हुए अपने फॉर्म में होने का सबूत भी पेश कर दिया हैं.”

विजय का रिकॉर्ड अच्छा है

रवि शास्त्री ने अपने इस बयान में आगे कहा कि “यदि अनुभवी खिलाड़ी टॉप पर खेलते हैं, तो इससे टीम को काफी लाभ होगा और इसीलिए हम शिखर के साथ ओपनिंग कराएँगे क्योकि उनके पास अनुभव होने के साथ बाए हाथ के विकल्प के रूप में भी हमारे पास मौजूद होंगे. वहीँ यदि बात की जाए मुरली विजय की तो उनके पास भी विदेशी जमींन पर खेलने का काफी अनुभव हैं, जिससे टीम को ऊपरी क्रम पर काफी मजबूती मिलती हैं.

राहुल को इंतज़ार करना पड़ेगा

रवि से जब भारतीय टीम के लिए दौरे पर मौजूद तीसरे ओपनर के रूप में लोकेश राहुल के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि “राहुल काफी प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं लेकिन उन्हें अब तक जितने भी अवसर मिले हैं उसमे वे अपनी शुरुआत को बड़े स्कोर में तब्दील नहीं कर सके और उन्हें इस चीज़ को समझना होगा और पिछले 18 महीनों में राहुल ने इस पर काफी सुधार भी किया हैं लेकिन उन्हें अपने अवसर का इंतज़ार करना पड़ेगा.”