चोट के चलते रवींद्र जडेजा, शुभमन गिल, अक्षर पटेल और इशांत शर्मा दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जाने वाली टीम से रह सकते हैं, बाहर - क्रिकट्रैकर हिंदी

चोट के चलते रवींद्र जडेजा, शुभमन गिल, अक्षर पटेल और इशांत शर्मा दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जाने वाली टीम से रह सकते हैं, बाहर

रवींद्र जडेजा की चोट को देखते हुए उन्हें अभी पूरी तरह से फिट होने में लगभग 1 महीने का समय लग सकता है।

Ravindra Jadeja (Photo by Adam Davy/PA Images via Getty Images)
Ravindra Jadeja (Photo by Adam Davy/PA Images via Getty Images)

भारतीय टीम को जल्द ही दक्षिण अफ्रीका दौरे पर रवाना होना है, जिसकी शुरुआत 26 दिसंबर से 3 मैचों की टेस्ट सीरीज के साथ होगी। लेकिन उससे पहले इस दौरे पर जाने वाले खिलाड़ियों में से कुछ का पत्ता अनफिट होने की वजह से कट सकता है। जिसमें ऐसी खबर सामने आ रही है कि रवींद्र जडेजा, अक्षर पटेल, शुभमन गिल और इशांत शर्मा अनफिट होने की वजह से इस दौरे से बाहर रह सकते हैं।

यह सभी खिलाड़ी हाल में ही खत्म हुई भारत और न्यूजीलैंड के बीच टेस्ट सीरीज में खेलते हुए नजर आए थे। लेकिन अब इनके कुछ समय तक मैदान से बाहर रहने की उम्मीद जताई जा रही है। हालांकि पिछले कुछ समय में कई युवा खिलाड़ियों ने टेस्ट टीम के लिए अपना दावा पेश किया है। जिसके बाद चेतन शर्मा की अध्यक्षता वाली इस चयन समिति के लिए टीम का चयन करना आसान काम नहीं होने वाला है।

लेकिन 4 अहम खिलाड़ियों के चोटिल होने से उनका काम थोड़ा आसान जरूर हो सकता है। इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार रवींद्र जडेजा को लिगमेंट टियर की शिकायत है तो वहीं अक्षर पटेल को स्ट्रेस फ्रेक्चर हो रखा है। हालांकि सभी को पता है कि अफ्रीका की पिचों पर स्पिन गेंदबाजों के लिए अधिक मदद नहीं होती है तो ऐसी स्थिति में इन दोनों की कमी टीम को अधिक खलने वाली नहीं है।

कुछ महीनों के लिए मैदान से दूर रह सकते हैं, जडेजा

न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के दौरान रवींद्र जडेजा के अनफिट होने के बाद उनकी जगह पर जयंत यादव को टीम में तीसरे स्पिन गेंदबाज के तौर पर शामिल किया गया था। जिसको लेकर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने बाद में जानकारी दी थी कि ऑलराउंडर खिलाड़ी रवींद्र जडेजा कानपुर टेस्ट मैच के दौरान चोटिल हो गए थे। जिसके बाद उन्हें इस टेस्ट मैच में आराम दिए जाने का फैसला लिया गया है।

हालांकि दक्षिण अफ्रीकी हालात को देखते हुए भारतीय टीम एक गेंदबाज के तौर पर रवींद्र जडेजा की कमी को अधिक महसूस नहीं करेगी। लेकिन विदेशी पिचों पर जडेजा बतौर बल्लेबाज टीम के लिए बेहद उपयोगी साबित होते हुए दिखे हैं। जिसके बाद यह देखना दिलचस्प होगा कि चयनकर्ता आखिर किस खिलाड़ी को मौका देने का फैसला करते हैं।