जो रूट के गलत फैसले ने डुबाई इंग्लैंड की लुटिया, पोंटिंग ने निकाली खामियां - क्रिकट्रैकर हिंदी

जो रूट के गलत फैसले ने डुबाई इंग्लैंड की लुटिया, पोंटिंग ने निकाली खामियां

एशेज में इंग्लैंड के प्रदर्शन से खुश नहीं हैं रिकी पोंटिंग।

Ricky Ponting
Ricky Ponting. (Photo by Mark Kolbe/Getty Images)

इंग्लैंड को तीसरे एशेज टेस्ट में एक पारी और 14 रन के अंतर से हार का सामना करना पड़ा, जिसके बाद उनकी टीम पांच मैच की सीरीज में 3-0 से पीछे हो गई है। उन्होंने आखिरी बार 2010-11 के दौरे के दौरान ऑस्ट्रेलिया में एक टेस्ट जीता था। उसके बाद से इंग्लैंड ऑस्ट्रेलिया में एक भी टेस्ट मैच नहीं जीत पाया है। और यह सीरीज जिस तरह से चल रही है, उसको देखते इंग्लैंड के लिए वापसी करना वाकई मुश्किल होगा।

तीसरे टेस्ट में इंग्लैंड दूसरी पारी में केवल 68 रन ही बना सका और केवल दो बल्लेबाज दहाई अंक के स्कोर तक पहुंच सके। उस खेल में ऑस्ट्रेलिया के लिए पदार्पण करने वाले स्कॉट बोलैंड ने दूसरी पारी में चार ओवर में सिर्फ सात रन देकर छह विकेट लिए। और टीम को तीसरे दिन के पहले सत्र में आसान जीत दिलाई।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान और कमेंटेटर रिकी पोंटिंग ने इस दौरे पर इंग्लिश टीम के खेलने के तरीके की आलोचना की। उन्होंने उल्लेख किया कि इंग्लैंड ने पहले टेस्ट में सर्वश्रेष्ठ प्लेइंग 11 का चयन नहीं किया और अगले दो मैचों में भी गलतियां करना जारी रखा।

रिकी पोंटिंग ने बताई जो रूट की गलतियां

चैनल 7 से बातचीत के दौरान पोंटिंग ने कहा कि, “उन्होंने ब्रिस्बेन में पहले टेस्ट में चयन को लेकर सही फैसले नहीं लिए। उनकी नजरें एडिलेड और फिर एमसीजी पर थी। शुरू से ही अपनी सर्वश्रेष्ठ टीम चुनें और फिर देखें कि वह समूह आपको कितनी दूर ले जा सकता है। एंडरसन और ब्रॉड का ब्रिस्बेन में नहीं खेलना चौंकाने वाला फैसला था। इसके साथ ही टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला भी अजीब था।”

पोंटिंग ने इस सीरीज में जिस तरह से जो रूट ने अपनी टीम की कप्तानी की, उसकी और आलोचना की। उन्होंने कहा कि, “तथ्य यह है कि जो रूट ने ब्रिस्बेन में पहले गेंदबाजी नहीं की, वह चौंका देने वाला था। मार्क वुड का एडिलेड में नहीं खेलना चौंकाने वाला था। वह ब्रिस्बेन में सबसे संभावित गेंदबाजों में से एक लग रहा था। उनकी सारी योजनाएं, उनके विचार, और उनकी संरचनाएं पूरी तरह से गलत हैं।”