क्या रियान पराग और मुस्तफिजुर रहमान के बीच बातचीत से बना राजस्थान का मैच? - क्रिकट्रैकर हिंदी

क्या रियान पराग और मुस्तफिजुर रहमान के बीच बातचीत से बना राजस्थान का मैच?

मुस्ताफिजुर रहमान ने 19वें ओवर में मात्र 4 रन दिए थे।

Kolkata: Rajasthan Royals’ Riyan Parag in action during the 43rd match of IPL 2019 between Kolkata Knight Riders and Rajasthan Royals at Eden Gardens in Kolkata, on April 25, 2019. (Photo: Kuntal Chakrabarty/IANS)

आईपीएल-14 के 32वें मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स को मिली जीत की चर्चा चारों तरफ हो रही है। टीम के खिलाड़ियों से लेकर क्रिकेट एक्सपर्ट सब इस मैच को लेकर अपनी अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। इसी क्रम में राजस्थान के ऑलराउंडर रियान पराग ने मैच को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उनका मानना है कि मैच में कार्तिक त्यागी के 20वें ओवर से अधिक महत्वपूर्ण रहमान का 19वां ओवर था।

राजस्थान रॉयल्स की टीम के हिसाब से 19वां ओवर काफी महत्वपूर्ण था। क्योंकि पंजाब के पास जीत के लिए रन कम और गेंद ज्यादा थी। अगर उस ओवर में अधिक रन जाते तो लक्ष्य को बचाना मुश्किल हो जाता। इसी ओवर को लेकर रियान पराग ने मैच के बाद खुलासा करते हुए बताया कि पारी के 19वें ओवर में उन्होंने मुस्ताफिजुर रहमान को एक सलाह दी थी।

19वें ओवर से पहले रियान पराग ने मुस्ताफिजुर को क्या सलाह दी?

मैच के बाद उन्होंने कहा कि “क्रिकेट वास्तव में एक फनी गेम है। पहली पारी के बाद हम आगे थे लेकिन खराब फील्डिंग की वजह से मैच हमसे दूर चला गया। 19वें ओवर में मैं मिड ऑफ पर खड़ा था और मुस्ताफिजुर रहमान से यही कहा कि इस ओवर में मैच मत खत्म होने देना। कार्तिक त्यागी 20वां ओवर डालेगा और हमारे पास एक मौका रहेगा।”

रियान पराग ने उसके बाद कार्तिक त्यागी के आखिरी ओवर को लेकर भी बात की। उन्होंने कहा कि “मैंने अपने क्रिकेटिंग करियर में इससे बेहतर स्पेल नहीं देखा है। उम्मीद है कि आने वाले मैचों में भी वो ऐसा करेंगे। मुस्ताफिजुर और त्यागी ने शानदार गेंदबाजी की। आखिरी दो ओवरों में आठ रन डिफेंड करना काफी शानदार है।

रियान पराग का इस मैच में प्रदर्शन

रियान पराग के लिए ये मैच कुछ अच्छा नहीं रहा। बल्लेबाजी से लेकर गेंदबाजी तक हर विभाग में उनका प्रदर्शन खराब रहा। बल्लेबाजी में जहां उनके बल्ले से 5 गेंदों में 4 रन आए। वहीं गेंदबाजी के दौरान उन्होंने अपने एक ओवर में 16 रन लुटाए। साथ ही कुछ अहम कैच भी छोड़े। हालांकि कैच छोड़ने के काम सिर्फ रियान पराग ने नहीं बल्कि उनके साथी खिलाड़ियों ने भी किया।

इस मैच में बल्ले से शानदार प्रदर्शन करने वाले यशस्वी जायसवाल ने भी के एल राहुल का अहम कैच छोड़ा, मैच के दौरान राहुल को तीन जीवनदान मिले। इस सीजन में राजस्थान रॉयल्स की फील्डिंग अब तक बेहद साधारण दिखी है। पहले फेज में भी इस टीम ने करीब 10-12 कैच छोड़े थे। इसको देखकर यही लगता है कि टीम को इस विभाग में बहुत काम करने की जरूरत है।