रोहित शर्मा इंजमाम उल हक

“कभी-कभी, दिमाग का इस्तेमाल करना जरूरी होता है”- बॉल टेम्परिंग के आरोप पर बोले रोहित शर्मा

इंजमाम उल हक ने भारत पर लगाया था बॉल टेम्परिंग का आरोप।

Rohit Sharma (Photo Source: Getty Images)
Rohit Sharma (Photo Source: Getty Images)

इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच खेलने से पहले टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान कई सवालों के जवाब दिए। रोहित ने बॉल टैम्परिंग का आरोप लगाने वाले पूर्व पाकिस्तानी खिलाड़ियों को जमकर लताड़ा है। रोहित ने दिमाग खोलने का सुझाव देते हुए कहा है कि परिस्थिति भी देखनी चाहिए। पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर इंजमाम उल हक ने भारतीय टीम पर बॉल टैम्परिंग का आरोप लगाया था।

बॉल टैम्परिंग के आरोप पर प्रेस कॉन्फ्रेंस में रोहित शर्मा ने कहा, ”इसका क्या जवाब दूं? अगर आप धूप में खेल रहे हैं और विकेट ड्राई है तो गेंद अपने आप रिवर्स होगी। सभी टीमों के लिए रिवर्स स्विंग हो रही है। सिर्फ हमारे लिए नहीं। कभी-कभी, दिमाग को खोलना (अपने दिमाग का इस्तेमाल करना) जरूरी होता है। परिस्थिति भी देखनी होती है। आपको समझना होगा कि हम कहां खेल रहे हैं। हम इंग्लैंड या ऑस्ट्रेलिया में नहीं खेल रहे हैं।”

इंजमाम उल हक ने टीम इंडिया पर लगाया था बॉल टेम्परिंग का आरोप

आपको बता दें कि, पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम-उल-हक ने लाइव टीवी शो के दौरान भारतीय टीम पर गेंद से छेड़छाड़ का बड़ा आरोप लगाया था। उन्होंने अंपायरों से अधिक सावधान रहने और टी-20 वर्ल्ड कप में भारत के मैचों के दौरान गेंद से छेड़छाड़ की घटनाओं पर ध्यान देने का आग्रह किया।

इंजमाम उल हक ने कहा था कि, ‘अर्शदीप सिंह जब 15वां ओवर कर रहा था, उस समय गेंद रिवर्स स्विंग कर रहा था। नई बॉल के साथ इतनी जल्दी रिवर्स स्विंग होना मुश्किल है? इसका मतलब है कि बॉल 12वें-13वें ओवर तक रिवर्स स्विंग के काबिल हो गया था। क्योंकि जब वो 15वां ओवर करने आए तो उनका रिवर्स स्विंग होना शुरू हो गया था। तो अंपायर्स को यहां भी आंखें खुली रखनी चाहिए।’

आपको बता दें कि, पाकिस्तान की टीम इस वर्ल्ड कप में सुपर-8 में नहीं पहुंच पाई थी। वहीं भारत इस टूर्नामेंट में अब तक एक भी मैच नहीं हारा है। अब टीम इंडिया अपना सेमीफाइनल मुकाबला इंग्लैंड के खिलाफ 27 जून को गयाना में खेलेगी।

close whatsapp