दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मिले हार के लिए सलमान बट ने टीम इंडिया की रणनीति पर उठाया सवाल - क्रिकट्रैकर हिंदी

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मिले हार के लिए सलमान बट ने टीम इंडिया की रणनीति पर उठाया सवाल

भारत ने इन्फॉर्म खिलाड़ियों से ज्यादा अनुभवी खिलाड़ियों पर भरोसा जताया- सलमान बट

Salman Butt
Salman Butt. (Photo Source: ARIF ALI/AFP via Getty Images)

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सलमान बट का मानना ​​है कि दक्षिण अफ्रीका में भारत का खेलने का दृष्टिकोण पूरी तरह से गलत है, खासकर बल्लेबाजी विभाग में। बट ने भारत के पांच बल्लेबाजों खेलने के सिद्धांत को गलत बताया, साथ ही में उन्होंने ये भी कहा कि उन पांच में से तीन का बल्लेबाज ऐसे थे जिनके फॉर्म को लेकर सीरीज शुरू होने से पहले ही सवाल किए जा रहे थे।

भारत ने तीनों टेस्ट में चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे का समर्थन किया, लेकिन दोनों बल्लेबाज केवल एक-एक अर्धशतक ही बनाने में कामयब हो पाए। कप्तान विराट कोहली भी लंबे समय से बड़ी पारी न खेल पाने के कारण दबाव में थे। उन्होंने दो टेस्ट मैचों में 161 रन बनाकर काफी अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन अपने शतक के सूखे को नहीं खत्म कर सके।

टेस्ट सीरीज में भारत के बल्लेबाजों ने सबसे अधिक गलती की- सलमान बट

एक अनुभवहीन दक्षिण अफ़्रीकी टीम के हाथों भारत की चौंकाने वाली हार का विश्लेषण करते हुए, बट ने कहा कि जहां तक उनकी बल्लेबाजी की बात आती है तो वहां भारतीय टीम ने सबसे ज्यादा गलतियां की। अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो में उन्होंने कहा कि, “भारत को अपने बल्लेबाजी के नजरिए पर पुनर्विचार करने की जरूरत है। फॉर्म और अनुभव दोनों मायने रखते हैं।”

उन्होंने आगे कहा कि, “लेकिन दक्षिण अफ्रीका में हमने देखा कि रहाणे और पुजारा को फार्म में चल रहे खिलाड़ियों की तुलना में ज्यादा तवज्जो दी गई। तेज गेंदबाजों के अनुकूल पिचों पर आप उन अनुभवी खिलाड़ियों पर भरोसा कर रहे हैं जो खराब फॉर्म में हैं। इसके अलावा, आप केवल पांच विशेषज्ञ बल्लेबाजों के साथ जा रहे हैं। सीरीज शुरू होने से पहले पांचों में से कम से कम तीन खिलाड़ियों की फॉर्म पर ही सवालिया निशान थे।”

साथ ही में सलमान बट का ये भी मानना है कि भारत की टीम काफी हद तक रोहित और कोहली के ऊपर निर्भर करती है और जब ये दोनों बल्लेबाज बल्लेबाजी करते हैं तो उनकी टीम की कमजोरी छिपी हुई रहती है लेकिन इस सीरीज में रोहित चोटिल होने की वजह से बाहर थे विराट भी बड़ी पारियां नहीं खेल पा रहे थे जिससे बाकी बल्लेबाजों पर काफी अधिक दबाव था।