चौथे टेस्ट के लिए दिग्गज स्पिनर शेन वॉर्न ने इंग्लैंड को दिया इस खिलाड़ी को निकालने का सुझाव - क्रिकट्रैकर हिंदी

चौथे टेस्ट के लिए दिग्गज स्पिनर शेन वॉर्न ने इंग्लैंड को दिया इस खिलाड़ी को निकालने का सुझाव

डेविड मलान के आने से इंग्लैंड की बल्लेबाजी हुई और मजबूत: शेन वार्न

Shane Warne. (Photo Source: Getty Images)
Shane Warne. (Photo Source: Getty Images)

लॉर्ड्स टेस्ट मैच में 151 रनों की करारी हार झेलने के बाद इंग्लैंड की टीम ने तीसरे टेस्ट मैच में जबरदस्त वापसी की। लीड्स के मैदान पर खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने भारत को एक पारी और 76 रनों से हराकर सीरीज को अब 1-1 की बराबरी पर ला खड़ा किया है। लेकिन, शानदार जीत दर्ज करने के बावजूद ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज स्पिनर शेन वॉर्न ने इंग्लैंड को चौथे टेस्ट मैच से पहले कुछ बदलाव करने का सुझाव दिया है। चौथा टेस्ट मैच 2 सितंबर से केनिंगटन ओवल के मैदान पर खेला जाएगा।

शेन वॉर्न ने इंग्लैंड को क्या सुझाव दिया?

चौथे टेस्ट मैच के लिए वॉर्न ने इंग्लैंड को सलाह दी है कि सैम करन को आने वाले टेस्ट मैच में बाहर करना चाहिए क्योंकि इस सीरीज में उन्होंने गेंद से कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया है। दिग्गज फिरकी गेंदबाज ने कहा है कि टीम में करन की जगह जैक लीच या मैट पैटिंसन को जगह मिलनी चाहिए। 

स्काई स्पोर्ट्स पर बातचीत करते हुए शेन वॉर्न ने कहा कि “कभी-कभी हम बहुत जल्दी बल्लेबाजों की आलोचना करने लग जाते हैं, लेकिन मुझे लगता है कि इंग्लैंड टीम ने अच्छा प्रदर्शन किया है। मैं करन को अगले टेस्ट मैच में खेलते हुए नहीं देखता हूं। चौथे गेंदबाज और आठ नंबर के बल्लेबाज के तौर पर ना तो उन्होंने शतक लगाया है और ना ही पांच विकेट हासिल किए हैं इसलिए मुझे नहीं पता कि वो टीम में क्यों हैं।” 

वॉर्न ने आगे कहा कि सैम करन एक अच्छे क्रिकेटर हैं लेकिन वो टुकड़ों में अच्छा प्रदर्शन करते हैं। मैं उस स्थान पर मार्क वुड या किसी स्पिनर को देखना चाहता हूं और अगर पिच में टर्न मौजूद हो तो जैक लीच या मैट पैटिंसन को टीम में देख सकते हैं। 

इंग्लैंड टीम के संतुलन के बारे में बात करते हुए कहा कि “डेविड मलान के आने के बाद टीम का संतुलन और अच्छा हो गया है। हालांकि, मुझे लगता है कि जैक क्रॉली को पारी की शुरुआत करनी चाहिए, वो एक टैलेंटेड खिलाड़ी हैं। जैक क्रॉली को ओपनिंग और मलान को नंबर 3 पर खेलना चाहिए जिससे उनकी बल्लेबाजी और मजबूत हो जाएगी।”