स्मृति मंधाना को अपने खेल में बड़े बदलाव करने की जरूरत नहीं है, उन्हें बस...: पूनम राउत ने भारतीय बल्लेबाज को लेकर रखा अपना पक्ष - क्रिकट्रैकर हिंदी

स्मृति मंधाना को अपने खेल में बड़े बदलाव करने की जरूरत नहीं है, उन्हें बस…: पूनम राउत ने भारतीय बल्लेबाज को लेकर रखा अपना पक्ष

15 मार्च को खेले गए महिला प्रीमियर लीग 2023 मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने यूपी वॉरियर्स को 5 विकेट से मात देकर इस टूर्नामेंट का अपना पहला मैच जीता।

Smriti Mandhana and Punam Raut (Pic Source-Twitter)
Smriti Mandhana and Punam Raut (Pic Source-Twitter)

15 मार्च को खेले गए महिला प्रीमियर लीग 2023 मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने यूपी वॉरियर्स को 5 विकेट से मात देकर इस टूर्नामेंट का अपना पहला मैच जीता। बता दें, इससे पहले उन्होंने 5 मुकाबले खेले थे और सभी में उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की बात की जाए तो टीम के लिए इस समय सबसे बड़ा चिंता का विषय स्मृति मंधाना का खराब फॉर्म है। उन्होंने अभी तक एक मुकाबले में भी बड़ा स्कोर नहीं बनाया है। बता दें, स्मृति मंधाना इस टूर्नामेंट की सबसे महंगे खिलाड़ी थी। उनको RCB ने 3.4 करोड़ रुपए में अपनी टीम में शामिल किया था। हालांकि ना तो वो कप्तानी में अच्छा प्रदर्शन कर पाई है और ना ही बल्लेबाजी में।

स्पोर्ट्स18 और जियोसिनेमा की WPL विशेषज्ञ पूनम राउत ने स्मृति मंधाना के खराब फॉर्म को लेकर अपना पक्ष रखा। यूपी वॉरियर्स के खिलाफ भी स्मृति मंधाना अच्छी बल्लेबाजी करने में नाकाम रही थी। वो बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गई थी। पूनम की मानें तो स्मृति को ऑफ स्पिनर्स के सामने थोड़ा और धैर्य के साथ खेलना चाहिए।

यहां से वापसी करना स्मृती के हाथ में है: पूनम राउत

पूनम राउत ने कहा कि, ‘ हम सब जानते हैं कि स्मृति मंधाना कैसी खिलाड़ी हैं और उन्हें अपने खेल में बड़े बदलाव करने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है। ऑफ स्पिनर्स को वो नहीं खेल पा रही हैं और उन्हें थोड़ा धैर्य के साथ स्ट्राइक को रोटेट करना चाहिए।’

पूनम राउत ने आगे कहा कि, ‘वो यहीं पर एक बड़ी गलती कर रही है कि ऑफ-स्पिनर्स के खिलाफ वो आक्रामक क्रिकेट खेल रही है और इसका रिजल्ट यह निकल रहा है कि मंधाना अपना विकेट गंवा रही है। मुझे पता है कि स्मृति को इस बात से कोई भी परेशानी नहीं हो रही होगी क्योंकि वो इन सब चीजों के बारे में ज्यादा नहीं सोचती। वापसी करना उनके हाथ में है और उन्हें पता है कि वो कैसे वापसी कर सकती हैं। हम उनको रन बनाते हुए देखना चाहते हैं।’