एकमात्र टी-20 के बाद, न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले वनडे मैच भी बाहर हुई स्मृति मंधाना - क्रिकट्रैकर हिंदी

एकमात्र टी-20 के बाद, न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले वनडे मैच भी बाहर हुई स्मृति मंधाना

मंधाना को न्यूजीलैंड के खिलाफ एकमात्र टी-20 मैच से भी बाहर होना पड़ा था।

Smriti Mandhana
Smriti Mandhana. (Photo by Quinn Rooney/Getty Images)

स्मृति मंधाना मेजबान देश में विस्तारित क्वारंटाइन के कारण न्यूजीलैंड के खिलाफ पांच एकदिवसीय मैचों की सीरीज का पहला मैच नहीं खेल पाएगी। 25 वर्षीय स्मृति न्यूजीलैंड सरकार के प्रोटोकॉल के तहत इसोलेशन में है, जिस वजह से वह 9 फरवरी को खेले गए टी-20 मैच का हिस्सा नहीं बन पाई, जहां भारतीय महिला टीम को 18 रनों से हार का सामना करना पड़ा। और अब स्मृति 12 फरवरी को क्वीन्सटाउन में पहले वनडे मैच में भी खेलती हुई नहीं दिखेगी।

तेज गेंदबाज मेघना सिंह और रेणुका सिंह, दोनों मंधाना के साथ इसोलेशन में हैं। इस बात की पुष्टि पहले टी-20 मैच के बाद यास्तिका भाटिया ने की। मंधाना की अनुपस्थिति में भाटिया को शेफाली वर्मा के साथ पारी की शुरुआत करने के लिए भेजा गया था, यहां उन्होंने 100 की स्ट्राइक रेट से 26 रन बनाए और पहले विकेट के लिए 41 रन जोड़े।

न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 155 रन बनाए, जिसमें कीवी टीम के सलामी बल्लेबाज सुजी बेट्स (36 रन) और कप्तान सोफी डिवाइन (31 रन) ने कुछ महत्वपूर्ण पारी खेली। अंत में ली ताहुहू की आतिशी पारी के बदौलत मेजबान टीम 150 रनों का आंकड़ा छूने में कामयब रही। ताहुहू ने पहले बल्लेबाजी के दौरान 14 गेंदों में 27 रन बनाए वहीं गेंदबाजी में भी एक विकेट लिया जिस वजह से उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

बल्लेबाजी के दौरान हम बड़ी साझेदारियां नहीं बना पाए: हरमनप्रीत कौर

इस मैच में कई बार टीम इंडिया मजबूत स्थिती में नजर आई, लेकिन न्यूजीलैंड के लगातार विकेट चटकाने के साथ भारतीय टीम मैच में पीछे काफी पीछे रह गई, इस बात को खुद कप्तान हरमनप्रीत कौर ने स्वीकार किया। उन्होंने मैच के बाद कॉन्फ्रेंस में कहा कि, “जब हम गेंदबाजी कर रहे थे तब हम खेल में बने हुए थे लेकिन दुर्भाग्य से आखिरी कुछ ओवर हमारे लिए अच्छे नहीं रहे।”

उन्होंने आगे कहा कि, “यहां तक ​​कि बल्लेबाजी में भी हमारी बड़ी साझेदारियां नहीं हुई थीं लेकिन हमने इस मैच से काफी कुछ सीखा है और उम्मीद है कि हम आगामी मैचों में खुद को सुधारेंगे। जब हम एक स्थान पर खेल रहे होते हैं तो हम बहुत कुछ सीख सकते हैं। उसी स्थान पर खेलने से निश्चित रूप से हमें मदद मिलेगी।”