सौरव गांगुली ने बिग बी को इस भारतीय खिलाड़ी को चैलेंज करने से किया मना - क्रिकट्रैकर हिंदी

सौरव गांगुली ने बिग बी को इस भारतीय खिलाड़ी को चैलेंज करने से किया मना

हाल ही में सौरव गांगुली और वीरेंद्र सहवाग अमिताभ बच्चन के शो KBC में मेहमान बनकर पहुंचे थे।

Sourav Ganguly, Amitabh bachchan and Virender Sehwag. (Photo Source: Twitter)
Sourav Ganguly, Amitabh bachchan and Virender Sehwag. (Photo Source: Twitter)

यूं तो भारतीय क्रिकेटरों ने अपने फैंस को जीत के रूप में कई तोहफे दिए हैं, लेकिन कभी-कभी कुछ जीत ऐसी होती है कि वो दिल में याद बनकर छप जाती है। ऐसा ही कुछ 2002 में हुआ था जब भारतीय टीम ने मेजबान इंग्लैंड द्वारा दिए गए 364 रनों के लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा करते हुए नेटवेस्ट सीरीज का फाइनल मैच जीता था। ये पहला मौका नहीं था जब भारतीय टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ जीत दर्ज की हो लेकिन उस जीत के बाद सौरव गांगुली ने जो अपना शर्ट निकालकर जश्न बनाया था, उसने उस मैच और पूरी सीरीज को और यादगार बना दिया।

उस मैच को बीते हुए 19 साल हो गए हैं लेकिन आज भी वो मैच और उसकी यादें ताजा हैं। आज भी उस जीत और सौरव गांगुली के अनोखे जश्न मनाने की चर्चा होती रहती है। बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने हाल ही में अपने शो कौन बनेगा करोड़पति (KBC) में पूर्व भारतीय क्रिकेटरों सौरव गांगुली और वीरेंद्र सहवाग को मेहमान के तौर पर आमंत्रित किया। इस दौरान उन्होंने कई पुराने यादें ताजा करते हुए सौरव गांगुली के उस जश्न मनाने के तरीके को भी याद किया।

लॉर्ड्स के किस्से को याद करते हुए क्या बोले सौरव गांगुली?

अमिताभ बच्चन ने सौरव गांगुली से उस प्रसिद्ध जश्न मनाने के बारे में सवाल किया तो गांगुली ने कहा कि “मेरी बेटी बार-बार वो मैच देख रही थी और उसने मुझसे पूछा कि आपने ऐसा क्यों किया। तो मैंने सोचा कि मैंने अपने करियर में 20,000 से अधिक रन बनाए हैं, इतने कवर ड्राइव लगाए हैं लेकिन फिर भी सब लोग लॉर्ड्स के जश्न मनाने के बारे में ही बात करते रहते हैं।”

हालांकि, अमिताभ बच्चन ने बताया कि वो उस लॉर्ड्स बालकनी के जश्न मनाने के अंदाज से बिल्कुल भी शर्मिंदा नहीं थे। उन्होंने कहा कि गांगुली का ये अंदाज सबको पसंद आया और केवल एक साहसी कप्तान ही ऐसा कर सकता है। इसके जवाब में सौरव गांगुली ने अमिताभ बच्चन से कहा कि, “कोहली को आप चैलेंज मत कीजिए। कप्तान विराट कोहली के पास इतना साहस है कि वो बिना शर्ट के ऑक्सफोर्ड स्ट्रीट पर घूम सकते हैं।”