in

दक्षिण अफ्रीका बनाम भारत पहला टेस्ट – मैच का संपूर्ण प्रेडिक्शन

यह बात पहले ही साफ हो चुकी है कि टीम इंडिया अगर टेस्ट श्रृंखला 3-0 से हार भी जाती है तो भी आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन बनी रहेगी।

The Freedom series trophy
The Freedom series trophy. (Photo source: Twitter)

भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका के बीच कल यानी कि 5 जनवरी से केपटाउन स्थित न्यूलैंड्स स्टेडियम में प्रथम टेस्ट मैच का आरंभ होगा। यह बात पहले ही साफ हो चुकी है कि टीम इंडिया अगर टेस्ट श्रृंखला 3-0 से हार भी जाती है तो भी आईसीसी रैंकिंग में नंबर वन बनी रहेगी। हालांकि युवा जोश से भरी हुई भारतीय टीम इस टेस्ट श्रृंखला को जीतने की पूरजोर कोशिश करेगी इसमें कोई दो राय नहीं है।

न्यूलैंड्स में विकेट का स्वभाव

न्यूलैंड्स में विकेट इस बार सूखा रहने की संभावना है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ियों की मांग है कि पिच ज्यादा से ज्यादा उछाल मिल सकें और तेज गेंदबाजों के लिए अनुकूल परिस्थितियों के आधार पर तैयार किया जाना चाहिए। मगर पिच क्यूरेटर ऐसा करने में असमर्थ है। क्योंकि केपटाउन इस वर्ष अनावृष्टि (सूखा) के कारण पानी की कमी से जूझ रहा है।

आपको बता दें कि तेज गेंदबाजी के लिए अनुरूप विकेट तैयार करने में अधिक मात्रा में पानी की आवश्यकता होती है। दक्षिण अफ्रीका की टीम को यही डर सता रहा है कि अगर विकेट सूखा रह जाता है तो सपाट पिच पर बल्लेबाजी करना बेहद आसान हो जायेगा। उपर से तीसरे या चौथे दिन पिच पर दरारें पड़ने लगी तो स्पिनरों को मदद मिलना शुरू हो जायेगी। इन परिस्थितियों में फिर टीम इंडिया के जीतने की संभावनाएं बढ़ जाती है।

हेड टू हेड (भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका)

भारत ने दक्षिण अफ्रीका में खेले हुए 17 टेस्ट में से केवल 2 टेस्ट में ही जीत हासिल की है। 8 टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका ने जीत दर्ज की है जबकि 7 टेस्ट ड्रॉ रहे है। हालांकि केपटाउन में न्यूलैंड्स के मैदान पर भारत का रिकॉर्ड इतना भी बुरा नहीं है।

केपटाउन में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच 4 टेस्ट मैच खेले गए है जिसमें से 2 टेस्ट में भारत को हार का सामना करना पड़ा है जबकि 2 टेस्ट ड्रॉ कराने में टीम इंडिया को सफलता प्राप्त हुई है। आखिरी बार जनवरी 2011 में भारत ने महेन्द्र सिंह धोनी की कप्तानी में इसी मैदान पर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच को ड्रॉ करवाया था।

टॉस एंड स्कोर प्रेडिक्शन

न्यूलैंड्स में अब तक 54 टेस्ट मुकाबले हुए है जिसमें से पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम को 20 टेस्ट में जीत मिली है। जबकि पहले गेंदबाजी करने वाली टीम ने 23 टेस्ट में विजय प्राप्त की है। हालांकि इस मैदान पर अब तक 11 टेस्ट मैच ड्रॉ रहे है। इसका सीधा मतलब यह है कि यहां पर टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करना ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकता है।

प्रथम पारी का संभावित स्कोर- 350-400

दूसरी पारी का संभावित स्कोर- 300-350

तीसरी पारी का संभावित स्कोर- 200-250

चौथी पारी का संभावित स्कोर- 150-200

टीम इंडिया (संभावित XI)

शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), रोहित शर्मा, रिद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शामी, ईशांत शर्मा।

दक्षिण अफ्रीका (संभावित XI)

डीन एल्गर, एडन मार्कराम, हाशिम अमला, एबी डिविलियर्स, फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), क्वींटन डीकॉक (विकेटकीपर), केशव महाराज, क्रिस मोरीस, वर्नॉन फिलांडर, कगिसो रबाडा, मोर्ने मोर्कल।

पहले टेस्ट मैच का संभावित परिणाम

संभावित परिस्थितियों और आंकड़ों को मद्देनजर रखते हुए भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले जाने वाला पहला टेस्ट मैच ड्रॉ होने की प्रबल संभावना है।

Written by Ravindra

Cricket Writer/Blogger

Celebration blunder

महिला बिग बैश: मैच खत्म होने से पहले हवा में गेंद उछालना पड़ा महंगा… मैच हो गया टाई

MS Dhoni

अब कोहली और जड़ेजा से भी कम हो सकती है धोनी की सैलरी, BCCI लाया नया प्लान