in

क्रिकेट की दुनिया के साल 2018 के सबसे दिलचस्प रिकॉर्ड, नंबर 3 सबसे हैरतअंगेज़

क्रिकेट कैलेंडर ईयर में बने बेस्ट रिकॉर्ड

                                                      (Photo Source: Twitter)

साल 2018 विदा हो चुका है. नए साल 2019 का आगाज़ हो चुका है. क्रिकेट की दुनिया के लिहाज़ से साल 2018 काफी बेहतरीन रहा. इस साल कई बड़े रिकॉर्ड बने और कई पुराने रिकॉर्ड टूटे. आज हम आपको उन रिकॉर्ड के बारे में बताएंगे जो पिछले साल बने. आईये जानते हैं क्रिकेट की दुनिया के बेहतरीन रिकॉर्ड.

1- टेस्ट में चेस करते हुए हारीं टीमें

साल 2018 में जीत और हार का रेशियो 0.214 रहा. साल 2018 में टेस्ट मैचों में दूसरी पारी में लक्ष्य का पीछा करते हुए ज़्यादातर टीमों को हार का सामना करना पड़ा. अगर आंकड़ों की बात करें तो 37 मैचों में चौथी पारी में लक्ष्य का पीछा करते हुए टीमों को सिर्फ 6 मैचों में जीत नसीब हुई है. वहीं बाकी 28 मैचों में हार का सामना करना पड़ा.

2- चेस करने में सबसे ज़्यादा हारे भारत- ऑस्ट्रेलिया

जानकर हैरानी होगी कि लक्ष्य का पीछा करते हुए सबसे ज्यादा हार भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमों को मिली हैं. क्रिकेट कलेंडर ईयर 2018 में इन टीमों को लक्ष्य का पीछा करते हुए हार का सामना टेस्ट मैचों में करना पड़ा है. भारतीय टीम इंग्लैंड दौरे पर काफी नाकाम रही थी. भारतीय टीम चेस करते हुए 6 मैच हारी है तो वहीं ऑस्ट्रेलिया टीम 5 मैच हारी है.

3- 71 बार गेंदबाज़ों ने लिए पांच विकेट

साल 2018 गेंदबाज़ों के लिहाज़ से भी काफी बेहतरीन रहा. क्रिकेट कैलेंडर ईयर में 71 बार गेंदबाज़ों ने पांच विकेट या उससे ज़्यादा लिए हैं. साल 2005 में गेंदबाज़ों ने 67 बार पांच विकेट लिए थे. उसके बाद ये आंकड़ा कभी 70 के पार नहीं पहुंच पाया था. साल 2018 में ये रिकॉर्ड भी बन गया.

4- 200 के भीतर टीम ऑलआउट होने का रिकॉर्ड्

साल 2018 क्रिकेट कैलेंडर इस लिहाज़ से भी काफी बेहतर रहा कि इस बार टीमें 200 के भीतर सबसे ज्यादा बार ऑलआउट हुईं. 58 बार ऐसा मौका आया कि टीमें 200 का भी आंकड़ा नहीं छू सकीं.

5- 500 बल्लेबाज़ हुए शून्य पर आउट

क्रिकेट के लिहाज से तो ये रिकॉर्ड् बेहतरीन रहा. लेकिन बल्लेबाज़ों के लिहाज से काफी बुरा. साल 2018 में 556 बार बल्लेबाज़ शून्य पर आउट हुए. ये पहला ऐसा मौका है कि क्रिकेट कैलेंडर ईयर में 500 प्लस बल्लेबाज़ शून्य पर आउट हुए हों. साल 2002 में ये आंकड़ा 492 था. जो इस बार 500 के पार पहुंच गया.

Shakib Al Hasan

टी 20 वर्ल्डकप में क्वालिफाई न करने के बावजूद शकीब अल हसन को है इतना विश्वास, कर दिया यह दावा

Yuvraj Singh in the nets. (Photo Source: Twitter)

युवराज सिंह आ गए हैं जूनियरों के बीच, अच्छे प्रदर्शन का रहेगा दबाव