सुरेश रैना ने किसे चुना राहुल द्रविड़, एमएस धोनी और विराट कोहली में सबसे बेहतर कप्तान? - क्रिकट्रैकर हिंदी

सुरेश रैना ने किसे चुना राहुल द्रविड़, एमएस धोनी और विराट कोहली में सबसे बेहतर कप्तान?

पिछले साल सुरेश रैना ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को कहा था अलविदा।

Virat Kohli, Rahul Dravid, and MS Dhoni. (Photo Source: Getty Images)
Virat Kohli, Rahul Dravid, and MS Dhoni. (Photo Source: Getty Images)

भारतीय क्रिकेट के इतिहास में हमें एक से बढ़कर एक कप्तान देखने को मिले हैं। अक्सर कई बार क्रिकेटर अपने समय के सबसे अच्छे कप्तान का नाम लेते हुए नजर आते हैं। इसी सिलसिले में पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना ने अपने दौर के सबसे बेहतरीन कप्तानों का नाम बताया है।

सुरेश रैना अपने क्रिकेट करियर में महेंद्र सिंह धोनी, राहुल द्रविड़ और विराट कोहली की कप्तानी में खेल चुके हैं। जब रैना से पूछा गया कि उनकी नजर में भारत के सबसे अच्छे कप्तान कौन हैं तो बिना किसी को चौंकाते हुए उन्होंने नंबर 1 पर धोनी का नाम लिया। रैना ने अपने जीवन में अधिकतम क्रिकेट धोनी की कप्तानी में खेली है। धोनी और रैना अपनी गहरी दोस्ती के लिए हमेशा सुर्खियों में भी रहते हैं और दोनों ही आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के लिए खेलते हुए नजर आते हैं।

वहीं, दूसरे नंबर पर उन्होंने राहुल द्रविड़ का नाम लिया जिनकी कप्तानी में उन्होंने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत की थी। मौजूदा भारतीय कप्तान विराट कोहली को रैना ने सबसे अंतिम स्थान पर रखा है।

RJ रौनक के यूट्यूब चैनल पर बातचीत के दौरान रैना ने कहा कि, “मैंने माही भाई के साथ बहुत क्रिकेट खेली है। जब मैंने भारत के लिए खेलना शुरू किया था तो राहुल द्रविड़ मेरे कप्तान थे इसलिए मैं माही भाई को पहले स्थान पर रखूंगा, राहुल द्रविड़ को दूसरे और विराट कोहली को तीसरे स्थान पर रखूंगा। मैंने विराट के साथ भी कई साझेदारियां की हैं और कई रिकॉर्ड बनाए हैं इसलिए कुछ इस प्रकार मैं चुनूंगा- धोनी, राहुल (द्रविड़) और चीकू (विराट)।

अगर CSK से नहीं तो किस टीम से आईपीएल खेलते रैना 

सुरेश रैना आईपीएल में CSK के सबसे अहम खिलाड़ियों में से एक हैं। उन्होंने अपनी टीम के लिए कई अहम योगदान दिए हैं जिससे टीम को जीत भी मिली है। जब रैना से पूछा गया कि अगर वो IPL में CSK के लिए नहीं खेल रहे होते तो किस टीम का हिस्सा होते। इस पर सुरेश रैना ने जवाब दिया कि, “दिल्ली। घर भी पास है, मुरादनगर से पास है और काफी दोस्त हैं उस टीम में इसलिए मैं दिल्ली को चुनूंगा।”