in

हार्दिक पांड्या के ऑस्ट्रेलिया सीरीज़ में नहीं खेलने से, टीम इंडिया को होंगे ये 3 नुकसान

हार्दिक न केवल टी20 सीरीज़ से बाहर हुए हैं बल्कि वनडे सीरीज़ से भी बाहर हो गए हैं।

Hardik Pandya with team india (photo by bcci/twitter)
Hardik Pandya with team india (photo by bcci/twitter)

ऑस्ट्रेलिया और टीम इंडिया के बीच विशाखापटनम के मैदान पर कल पहला टी20 मैच खेला जाएगा। टीम इंडिया के लिए बुरी खबर यह है कि मैच में हार्दिक पांड्या टीम इंडिया का हिस्सा नहीं होंगे। कमर दर्द से जूझ रहे हार्दिक अंतिम मौके पर सीरीज़ से बाहर हो गए हैं।

हार्दिक न केवल टी20 सीरीज़ से बाहर हुए हैं बल्कि वनडे सीरीज़ से भी बाहर हो गए हैं। चिंतन की बात यह है कि हार्दिक पांड्या की कमर दर्द की तकलीफ बढ़ती जा रही है। जिससे उन्हें ऑस्ट्रेलिया सीरीज़ से हटना पड़ा है। ऐसे में इंग्लैंड में उनकी फिटनेस को लेकर उनका टीम में नहीं होना आने वाले आगामी वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के लिए काफी चिंता का विषय हो गया है।

एशिया कप में हुए थे चोटिल

Hardik Pandya (Twitter)

साल 2018 में यूएई में खेले गए एशिया कप में हार्दिक पांड्या पाकिस्तान के खिलाफ गेंदबाज़ी करते हुए पिच पर गिर पड़े थे। दर्द इतना ज़्यादा था कि उन्हें स्ट्रेचर से मैदान के बाहर लेकर जाना पड़ा था। इसके बाद इस खिलाड़ी की वापसी हुई तो विवादित बयान के बाद उन्हें ऑस्ट्रेलिया दौरे पर ही सस्पेंड कर दिया गया। जिसके बाद उन्हें वापस भारत लौटना पड़ा। ऐसे में हार्दिक पांड्या के लिए मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं।

हार्दिक पांड्या को अगले सप्ताह से अब बेंगलुरू के नेशनल क्रिकेट एकेडमी में ट्रेनिंग सेशन में भाग लेकर अपनी फिटनेस को लेकर मेहनत करनी होगी।

1- खलेगी एक तेज गेंदबाज़ की कमी

हार्दिक पांड्या कई बार अन्य गेंदबाज़ों के विफल होने के बावजूद मैच में भारतीय टीम की अपनी गेंदबाज़ी से वापसी करा देते थे। न्यूज़ीलैंड टी20 सीरीज़ में जब शुरुआती गेंदबाज़ी विफल रहे तो पांड्या ने ही मुनरो को आउट किया था। उनके नहीं होने से टीम को यह नुकसान होगा।

2- फील्डर के तौर पर होगा नुकसान

टीम इंडिया के लिए हार्दिक पांड्या सबसे बेहतरीन फील्डरों में से एक हैं। पांड्या का न्यूज़ीलैंड में पकड़ा गया कैच सभी को याद है। यह खिलाड़ी अपनी फील्डिंग से मैच का रूख बदलने में सक्षम हैं। ऐसे में उनके नहीं होने से टीम को यह बड़ा नुकसान होगा।

3- हिटर की खलेगी बड़ी कमी

लक्ष्य का पीछा करते हुए अगर रन रेट औसत 10 का भी चाहिए हो और हार्दिक क्रीज़ पर हो तो जीत की संभावना रहती है। लेकिन सीरीज़ में उनके नहीं होने से इस हिटर बल्लेबाज़ की कप्तान कोहली को काफी कमी खलेगी।

चिंता की बात यह भी है कि टीम इंडिया के पास हार्दिक की इन ताकतों का दूसरे खिलाड़ी के तौर पर दूसरा कोई विकल्प नहीं है। जिसमें यह तीनों क्वालिटी एक साथ मौजूद हों।

team India (photo by bcci/twitter)

भारत-ऑस्ट्रेलिया पहला टी20 मैच की भविष्‍यवाणी, पिच रिपोर्ट, मौसम का मिजाज और संभावित प्लेइंग इलेवन

ishan kisan ICC Under 19 World Cup

आईपीएल के ये धुरंधर खिलाड़ी बन सकते हैं भविष्य में भारतीय टीम के कप्तान