ACB के सीईओ का बड़ा बयान, कहा किसी भी खिलाड़ी ने नहीं की अपने परिवार को बाहर निकालने की बात - क्रिकट्रैकर हिंदी

ACB के सीईओ का बड़ा बयान, कहा किसी भी खिलाड़ी ने नहीं की अपने परिवार को बाहर निकालने की बात

सीईओ हामिद शेनवारी ने कहा कि अफगानिस्तान क्रिकेट को तालिबान का समर्थन हासिल है।

Afghanistan. (Photo Source: Getty Images)
Afghanistan. (Photo Source: Getty Images)

तालिबानी कब्जे के बाद से पिछले कुछ दिन अफगानिस्तान के नागरिकों के लिए बेहद मुश्किल भरे रहे हैं। अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद तालिबान ने अफगानिस्तान के 34 प्रांतों पर अपना कब्जा जमा लिया है। इन हालातों को देखते हुए अफगानी नागरिक अपने ही देश से भागने के लिए मजबूर हो चुके हैं।

तालिबानी कब्जे के बाद अफगानिस्तान क्रिकेट भी खतरे में नजर आ रहा था और कुछ दिनों बाद पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच होने वाले सीरीज पर भी सवाल बना हुआ था। इस सीरीज पर और देश की क्रिकेट पर अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सीईओ हामिद शेनवारी ने कहा कि पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज अपने तय समय पर ही होगी। उन्होंने क्रिकेट फैंस को ये भी आश्वासन दिया है कि अफगान की क्रिकेट टीम अक्टूबर में होने वाले ICC टी-20 वर्ल्ड कप में भी हिस्सा लेगी।

तालिबान ने अब तक किया है क्रिकेट का समर्थन

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (ACB) के सीईओ हामिद शेनवारी ने कहा कि किसी भी क्रिकेटर ने अब तक अपने परिवार को देश से बाहर निकालने का अनुरोध नहीं किया है। इसके अलावा उन्होने कहा कि ACB मुख्यालय में तालिबानियों के घुसने की खबर भी झूठी है।

यूट्यूब चैनल स्पोर्ट्स तक से बातचीत करते हुए हामिद शेनवारी ने कहा कि, यह एक झूठी अफवाह है और कोई भी इस इरादे से नहीं आया था। मैं तालिबानी कब्जे के बाद से अफगान क्रिकेट को संभाल रहा हूं और वो लोग क्रिकेट को काफी प्रोत्साहित करते हैं। खिलाड़ी पाकिस्तान सीरीज खेलने के लिए तैयार हैं और पिछले दो दिनों से आने वाली सीरीज को लेकर कैंप में तैयारी भी कर रहे हैं।

फिलहाल अफगानिस्तान के प्रमुख खिलाड़ी राशिद खान और मोहम्मद नबी इंग्लैंड में द हंड्रेड टूर्नामेंट खेल रहे हैं जिसके बाद वो पाकिस्तान के खिलाफ होने वाली सीरीज के लिए टीम के साथ श्रीलंका में जुड़ेंगे। तीन मैचों की ये वनडे सीरीज तीन सितंबर से श्रीलंका के हंबनटोटा स्टेडियम में खेली जाएगी।