'उसकी किस्मत खराब थी'- स्टुअर्ट ब्रॉड के सबसे महंगे टेस्ट ओवर पर बोले जेम्स एंडरसन - क्रिकट्रैकर हिंदी

‘उसकी किस्मत खराब थी’- स्टुअर्ट ब्रॉड के सबसे महंगे टेस्ट ओवर पर बोले जेम्स एंडरसन

इस मैच में स्टुअर्ट ब्रॉड ने टेस्ट इतिहास का सबसे महंगा ओवर फेंका।

James Anderson & Stuart Broad (Photo by Ryan Pierse/Getty Images)

इंग्लैंड के अनुभवी तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन का मानना है कि स्टुअर्ट ब्रॉड ने भारत के खिलाफ पुनर्निधारित टेस्ट मुकाबले के दूसरे दिन जो रिकॉर्डतोड़ ओवर फेंका था वहां वो काफी दुर्भाग्यपूर्ण रहे थे। बता दें, भारत के स्टैंड-इन कप्तान जसप्रीत बुमराह 10वें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे थे।

उन्होंने पारी के 84वें ओवर में स्टुअर्ट ब्रॉड को 29 रन जड़े थे। इन 29 रन के अलावा ब्रॉड ने 6 अतिरिक्त रन भी दिए थे। इससे पहले ये रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के ब्रायन लारा, ऑस्ट्रेलिया के जॉर्ज बेली और दक्षिण अफ्रीका के केशव महाराज का था जिन्होंने एक ही ओवर में 28 रन जड़े थे। ब्रॉड ने एक ओवर में 35 रन लुटाकर टेस्ट क्रिकेट के इतिहास का सबसे महंगा ओवर फेंका था।

किस्मत हमारे साथ नहीं थी: जेम्स एंडरसन

बुमराह ने पहली पारी में 16 गेंदों में 31* रन बनाकर टीम को 400 रन के पार पहुंचाया। भारत ने पहली पारी में सभी विकेट खोकर 416 रन बनाए थे। जिसके जवाब में दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड 84 रन पर पांच विकेट गंवा चुकी थी।

यह भी कहा जा सकता है कि, ‘ बुमराह जब बल्लेबाजी कर रहे थे तब किस्मत भी उनका साथ दे रही थी क्योंकि बुमराह ने जितने भो शॉट्स खेले उनमें से कई तो ऐज लेकर बाउंड्री के पार गए थे । ब्रॉड दूसरे दिन लगातार या तो छोटी गेंद डाल रहे थे या तो गुड लेंथ की गेंदे फेंक रहे थे। जेम्स एंडरसन की माने तो ऐसा कई बार हुआ जब गेंद टॉप ऐज से लगकर फील्डर के पास तो गई लेकिन हाथ में नहीं आई।

दिन का खेल खत्म होने के बाद जेम्स एंडरसन ने कहा कि, ‘उससे पहले जितनी गेंदें भी टॉप ऐज से लग रही थी वो फील्डर के हाथ में जा रही थी लेकिन किस्मत की बात है कि बुमराह के बल्ले से जो भी गेंदें इस प्रकार की लगी वो फील्डर के हाथ तक नहीं पहुंची। हम लोग लगातार यही बात कर रहे थे की ऐसा कैसे हो सकता है। आज ब्रॉड का दिन नहीं था। अगर किस्मत हमारे साथ होती तो यह सभी गेंदें फील्डर के हाथ में जाती।

हमें आक्रामक क्रिकेट खेलना होगा: जेम्स एंडरसन

ऋषभ पंत और रवींद्र जडेजा की शतकीय पारी और जसप्रीत बुमराह की वो तेज तर्रार पारी की वजह से भारत ने पहली पारी में 416 रन बनाए थे। इंग्लैंड की शुरुआत काफी निराशाजनक रही थी।

जेम्स एंडरसन ने कहा कि, ‘मुझे लगता है कि हमें आक्रामक क्रिकेट खेलना चाहिए था। पिछले कुछ हफ्तों से हम ऐसी स्थिति में कई बार आ चुके हैं और हमने आक्रामक क्रिकेट खेलकर ही मुकाबले जीते हैं। अटैक करने से हम विपक्षी टीम के ऊपर दबाव डाल सकते हैं। मुझे पूरी उम्मीद है कि हम इस टेस्ट मुकाबले में जबरदस्त वापसी करेंगे।’