इन 5 नए नियमों को लागू करने से टेस्ट क्रिकेट बन सकता है और भी दिलचस्प - क्रिकट्रैकर हिंदी

इन 5 नए नियमों को लागू करने से टेस्ट क्रिकेट बन सकता है और भी दिलचस्प

मौजूदा दौर में टेस्ट क्रिकेट में कुछ नियमों को लागू किया जाए तो इसे देखने में और मजा आएगा।

Free Hit signal. (Photo Source: BCCI/IPL)
Free Hit signal. (Photo Source: BCCI/IPL)

क्रिकेट में टेस्ट क्रिकेट सबसे लंबे समय तक खेला जाता है। कभी-कभी छोटे फॉर्मेट वाली क्रिकेट से ज्यादा मजा टेस्ट क्रिकेट में आता है और इसकी एक झलक हमें लॉर्ड्स टेस्ट मैच में देखने को मिली थी। हाल के समय में खेले गए कुछ टेस्ट मैचों को देखकर ये कहना गलत नहीं होगा कि टेस्ट क्रिक्रेट का अस्तित्व कभी खत्म नहीं होने वाला है।

आज हम बात करेंगे उन पांच नियमों के बारे में जो टेस्ट क्रिकेट को और मजेदार और रोमांचक बना सकते हैं। इसमें कोई दो राय नहीं कि टेस्ट क्रिकेट में हमें खेल और खिलाड़ियों के बीच भावनाएं दिखती हैं, वो एक दर्शक को छोटे फॉर्मेट में कभी देखने को नहीं मिलेगी, लेकिन कुछ बदलाव इस फॉर्मेट को और मजेदार बना देगा।

क्या हैं वो पांच बदलाव जिससे टेस्ट क्रिक्रेट और रोमांचक बन जाएगा:

1 – टेस्ट क्रिकेट में फ्री हिट

Umpire Richard Illingworth calls a no-ball (Photo Source: Ryan Pierse/Getty Images)
Umpire Richard Illingworth calls a no-ball (Photo Source: Ryan Pierse/Getty Images)

लॉर्ड्स में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच के दौरान कुछ ऐसा देखने को मिला जो ठीक नहीं था। दरअसल, भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने एक ओवर की चौथी गेंद नो बॉल डाली थी और उस समय जेम्स एंडरसन बल्लेबाजी कर रहे थे। अब शमी को इस नो बॉल की वजह से एक और गेंद मिली और उस ओवर की आखिरी गेंद पर उन्होंने एंडरसन को आउट कर दिया।

हालांकि, बल्लेबाज के दृष्टिकोण से देखा जाए तो ये गलत था क्योंकि गेंदबाज के ओवर स्टेपिंग की गलती के वजह से एंडरसन को एक और गेंद का सामना करना पड़ा था। अगर ये वनडे या टी-20 में होता तो अगली गेंद फ्री हिट होती और गेंदबाज रन आउट के अलावा किसी और तरीके से विकेट नहीं ले पाता जिसकी वजह से टेस्ट क्रिकेट में फ्री हिट को लागू करने पर विचार किया जा सकता है।