IPL-14 के दूसरे फेज की शुरुआत से पहले मुंबई इंडियंस को लेकर गौतम गंभीर ने दिया बड़ा बयान - क्रिकट्रैकर हिंदी
हिंदी

IPL-14 के दूसरे फेज की शुरुआत से पहले मुंबई इंडियंस को लेकर गौतम गंभीर ने दिया बड़ा बयान

अब तक पांच बार आईपीएल खिताब अपने नाम कर चुकी है मुंबई इंडियंस।

Gautam GambhirPhoto by Qamar Sibtain/The India Today Group via Getty Images)
Gautam GambhirPhoto by Qamar Sibtain/The India Today Group via Getty Images)

आईपीएल-14 का दूसरा फेज 19 सितंबर से यूएई में खेला जाएगा। लीग की सभी टीमें दूसरे फेज के लिए अपनी तैयारी जोर शोर से कर रही हैं। आईपीएल का पहला फेज भारत में खेला गया था लेकिन कोरोना के बढ़ते हुए मामलों के चलते इसको बीच में ही रोकना पड़ा था। दूसरे फेज के लिए सबसे पहले चेन्नई सुपर किंग्स(CSK) और मुंबई इंडियंस(MI) की टीम दुबई पहुंची थी।

IPL-14 के पहले फेज में मुंबई की शुरुआत कुछ खास नहीं रही और शुरुआती कुछ मुकाबलों ने उन्हें हार का सामना करना पड़ा। लेकिन, बाद में अहम मुकाबलों में टीम ने जीत हासिल की और फिलहाल प्वाइंट्स टेबल में चौथे स्थान पर मौजूद हैं। पिछले साल आईपीएल का 13वां संस्करण यूएई में खेला गया था और वहां मुंबई इंडियंस ने खिताब अपने नाम नाम किया था।

गंभीर ने मुंबई इंडियंस को लेकर कही कुछ महत्वपूर्ण बातें

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर का मानना है कि मुंबई इंडियंस के लिए यूएई की परिस्थितियां उनकी खेल के लिए काफी अनुकूल होंगी। स्टार स्पोर्ट्स के शो गेम प्लान में गौतम गंभीर ने कहा कि “मुंबई ने अलग परिस्थितियों में खेला है। जब आप चेन्नई और दिल्ली की परिस्थितियों को देखते हैं तो वे वानखेड़े से एकदम अलग हैं। जसप्रीत बुमराह और ट्रेंट बोल्ट जैसे गेंदबाजों के अनुकूल होने वाली गेंदबाजी परिस्थितियों में मुंबई की टीम आगे जाने वाली है।

गौतम गंभीर ने शो में आगे ये भी कहा कि “स्विंग में मुंबई की टीम खतरनाक होगी। मुंबई चाहती भी है कि गेंद स्विंग करे क्योंकि उनके पास क्वालिटी गेंदबाज हैं और इससे उनको फायदा होने वाला है। उनके बल्लेबाज चाहते हैं कि गेंद बल्ले पर भी आए, रोहित शर्मा, हार्दिक पांड्या जैसे लोगों ने चेपॉक में संघर्ष किया क्योंकि यह ग्रिपिंग और टर्निंग विकेट था।”

गंभीर का मानना है कि दुबई, आबूधाबी और शारजाह में मुंबई की टीम को कोई परेशानी नहीं होगी क्योंकि उन्होंने पिछले साल यहां खेला था और वो वहां की विकेट से भी परिचित हैं। हालांकि गंभीर ने ये भी कहा कि मुंबई इंडियंस की टीम के लिए दूसरे फेज में धीमी शुरुआत करना सही नहीं होगा क्योंकि अगर उन्हें प्लेऑफ में जगह बनाना है तो उसके लिए उनकी टीम को शायद पांच मैच जीतने होंगे।