IPL 2022: क्या उमरान मलिक के प्रबंधन के मामले में BCCI पर शक कर रहे हैं डेल स्टेन? - क्रिकट्रैकर हिंदी

IPL 2022: क्या उमरान मलिक के प्रबंधन के मामले में BCCI पर शक कर रहे हैं डेल स्टेन?

उमरान मलिक दिन-ब-दिन अपनी गेंदबाजी में माहिर होते जा रहे हैं।

Dale Steyn and Umran Malik. (Photo Source: IPL/BCCI)
Dale Steyn and Umran Malik. (Photo Source: IPL/BCCI)

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के जारी 15वें सीजन में सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के तेज गेंदबाज उमरान मलिक के सामने टूर्नामेंट में भाग लेने वाले सभी गेंदबाज फीके पड़ गए हैं। जम्मू और कश्मीर के एक्सप्रेस गेंदबाज जारी आईपीएल 2022 (IPL 2022) में अपनी तूफानी गेंदबाजी से चर्चा में छाए  हुए हैं।

अगर आईपीएल 2022 (IPL 2022) में गेंदबाजी प्रदर्शन की बात होती हैं, तो चर्चा का मुख्य आकर्षण केवल उमरान मलिक होते हैं। इस बीच, सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के गेंदबाजी कोच डेल स्टेन ने तेज गेंदबाजी विभाग में भारत में क्रांति लाने के लिए आईपीएल (IPL) को श्रेय दिया है।

अपने नवीनतम शिष्यों में से एक उमरान मलिक को दक्षिण अफ्रीकी दिग्गज ने भारत की उभरती प्रतिभा के रूप में संदर्भित किया और 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने की उनकी क्षमता की काफी सराहना भी की है। उन्होंने यह भी कहा कि अब यह भारत के ऊपर है कि वे उमरान मलिक को आईपीएल 2022 (IPL 2022) के बाद प्रबंधित करे, क्योंकि वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू के लिए बेसब्री से इंतजार कर रहा है।

उमरान मलिक के करियर की डोर भारत के हाथों में हैं

डेल स्टेन ने स्पोर्टस्टार से कहा: “मैं सिर्फ उसे कंधे पर थपथपाने की कोशिश कर रहा हूं और जब वह अच्छी गेंदबाजी करता है ये वास्तव में उसे प्रोत्साहित करता है उन चीजों के साथ लगातार बने रहने के लिए जो वह अच्छा कर रहा है, उसके लिए आगे की सोच पैदा करने, और अच्छा करने की कोशिश करने के लिए ताकि वह गेंदबाजी के और गुर सीख सके। अगर उसे लगता है कि वह दबाव में है, तो वह एक विशेष डिलीवरी विकसित कर सकता है, और खुद को स्थिति से बाहर निकाल सकता है। ये चीजें हैं जिस पर  मैं, भुवी (भुवनेश्वर कुमार), नट्टू (टी नटराजन) और टॉम मूडी उसके साथ काम करते हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “उमरान अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलेंगे, इसे लेकर कोई शक नहीं है। वह लगातार 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करता है, और अभी दुनिया में कोई और गेंदबाज ऐसा नहीं कर रहा है। हो सकता है कि लॉकी फर्ग्यूसन इतनी रफ्तार से गेंदबाजी करता हो, लेकिन ये दोनों बहुत अलग गेंदबाज हैं। लेकिन भारतीय दृष्टिकोण से, वह एकमात्र ऐसा गेंदबाज है जो लगभग हर गेंद 145-150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से डालता है, इसलिए वह भारत के लिए खेलेगा। लेकिन भारत उसे कैसे मैनेज करता है, यह पूरी तरह उन पर निर्भर है।”