आईपीएल नीलामी में बज रहा है अंडर-19 भारतीय खिलाड़ियों का डंका - क्रिकट्रैकर हिंदी

आईपीएल नीलामी में बज रहा है अंडर-19 भारतीय खिलाड़ियों का डंका

U-19 Team win
U-19 Team win (Photo Source : Twitter)

आईपीएल में नीलामी के दूसरे दिन का दौर जारी है। कई कैप्ड खिलाड़ी,अनकैप्ड खिलाड़ी को बड़े दाम पर बड़ी टीम ने अपने साथ जोड़ा तो वहीं कई खिलाड़ियों को टीम ने घास तक नहीं डाली। ध्यान देने नाली बात ये रही की मौजूदा समय में न्यूजीलैंड में अंडर-19 वर्ल्ड कप खेलने गई भारतीय के युवा खिलाड़ी को उम्मीद के मुताबिक ही बहुत ज्यादा धनराशी में टीम ने अपने साथ जोड़ा।

अंडर -19 भारतीय टीम की खिलाड़ी की निलामी राशी इस प्रकार है।

  • पृथ्वी शॉ – भारत की अंडर 19 टीम के कप्तान पृथ्वी शॉ को दिल्ली डेयरडेविल्स ने 1.2 करोड़ रुपये में खरीदा । शॉ ने मुंबई के लिए खेलते हुए पांच सेंचुरी लगाई है। अपने पहले ही रणजी मैच में शतक बनाने वाले शॉ के नाम नौ फ़र्स्ट क्लास मैचों में 5 शतक और 3 अर्द्धशतक हैं।
  • कमलेश नागरकोटी – इसके अलावा कमलेश नागरकोटी ने भी इन दोनों को पीछे छोड़ दिया। इस नए छोरे को कोलकाता नाइड राइडर्स ने भारी भरकम 3.2 करोड़ की कीमत चुकाकर अपनी टीम से जोड़ा है। कमलेश नागरकोटी ने अंडर-19 वर्ल्ड कप में अपनी रफ्तार से सबकौ चौंकाया है। नागरकोटी लगातार 140 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंकते हैं। खुद सौरव गांगुली ने भी नागरकोटी की रफ्तार की तारीफ की थी।
  • शुभम गिल शाहरुख खान की कोलकाता नाइटराइडर्स ने धाकड़ बल्लेबाज शुभम गिल की बोली 1.8 करोड़ रुपये लगाई। घरेलू मैचों में शानदार प्रदर्शन का उन्हें नीलामी के दौरान तोहफा मिला। पंजाब के शुभम गिल अपनी आतिशी बल्लेबाज़ी के लिए जाने जाते हैं।
  • शिवम मावी – IPL नीलामी में युवा तेज गेंदबाज शिवम मावी को कोलकाता नाइट राइडर्स ने तीन करोड़ की बड़ी रकम में खरीदा। शिवम के लिए कई टीमों ने बिड की। लेकिन अंत में बाजी ने कोलकाता ने मारी। शिवम का बेस प्राइस 20 लाख था। आपको बता दें, शिवम मावी भारतीय अंडर 19 क्रिकेट टीम में ऑलराउंडर की भूमिका निभाते हैं।
  • अभिषेक शर्मा – अभिषेक शर्मा को दिल्ली ने 55 लाख रुपए में खरीदा।अभिषेक शर्मा ने अंडर 19 टीम इंडिया के ओर से शानदार प्रदर्शन किया है। आपको बता दे कि साल 2016 में खेंले गए एशिया कप फाइनल में श्रीलंका के खिलाफ अभिषेक शर्मा ने बेहतरीन पारी खेली थी साथ ही अपने टीम को खिताबी जीत दिलाई थी।