सनसनीखेज़ गेंदबाज़ी के बाद विजय शंकर बोले, मैं ऐसा नहीं करता तो मुझ पर नहीं करता कोई भरोसा - क्रिकट्रैकर हिंदी

सनसनीखेज़ गेंदबाज़ी के बाद विजय शंकर बोले, मैं ऐसा नहीं करता तो मुझ पर नहीं करता कोई भरोसा

ऑस्ट्रेलिया और टीम इंडिया के बीच पांच मैचों की वनडे सीरीज़ का दूसरा मैच नागपुर में खेला गया। पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारतीय टीम 48 ओवरों में 250 रन बनाकर ऑलआउट हो गई। कप्तान कोहली को छोड़कर कोई अन्य बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल पाया। कोहली ने अपने करियर का 40वां शतक ठोका।

कोहली ने 120 गेंदों में 116 रन की मैराथन पारी खेली। अंतिम ओवर में ऑस्ट्रेलिया टीम को 11 रन चाहिए थे। ऑस्ट्रेलिया टीम लक्ष्य का पीछा करते हुए 242 रनों पर सिमट गई।

टीम इंडिया ने 8 रन से मैच जीत लिया। विजय शंकर ने अंतिम ओवर में दो विकेट लेकर टीम को मैच जीता दिया। उन्होंने क्रीज़ पर टिककर खेल रहे स्टोइनिस को पवेलियन की राह दिखाई और भारत की मैच में वापसी करा दी।

विजय शंकर को 41 ओवर में थी यह उम्मीद

टीम इंडिया के लिए सीरीज़ में पहली बार खेलने उतरे विजय शंकर ने मैच में जबरदस्त प्रदर्शन किया। पहले तो शंकर ने बल्लेबाज़ी करते हुए 46 रन ठोक डाले। अंतिम ओवर में 2 विकेट लेकर टीम को जीत दिला दी।

जीत के बाद विजय शंकर ने कहा कि वह 41 ओवर में सोच रहे थे कि अंतिम ओवर अगर उन्हें मिला तो वह टीम को जीत दिला सकते हैं। उन्होंने जीत के बाद कहा कि अगर मैं आज अंतिम ओवर में गेंदबाज़ी करते हुए मैच नहीं जिताता तो मुझे कोई नोटिस नहीं करता और मेरे ऊपर कोई भरोसा नहीं करता।