अंपायर से विवादों के बीच भावुक होकर कप्तानी को गुड बाय बोला विराट ने - क्रिकट्रैकर हिंदी

अंपायर से विवादों के बीच भावुक होकर कप्तानी को गुड बाय बोला विराट ने

RCB का IPL 2021 का सफर हुआ समाप्त, बतौर कप्तान विराट को आखिरी मैच में मिली हार।

Virat Kohli and Umpire (Photo Source: Disney+Hotstar)
Virat Kohli and Umpire (Photo Source: Disney+Hotstar)

IPL 2021 के एलिमिनेटर मैच में 11 अक्टूबर को कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) की टीम आमने-सामने थी। चूंकि ये करो या मारो वाला मुकाबला था जहां हारने वाली टीम को IPL से बाहर होना पड़ता, इसलिए उम्मीद थी कि इस मैच में दोनों टीमों के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिलेगी। वहीं, मैच के दौरान कुछ ऐसी घटनाएं भी हुई जिसने काफी सुर्खियां बटोरी।

मैच के दौरान कई फैसलों के पलटे जाने के बाद विराट कोहली को अंपायर वीरेंदर शर्मा के साथ बहस करते हुए देखा गया। दिलचस्प बात यह है कि उनके सभी फैसले RCB के खिलाफ थे जिसके लिए टीम को DRS का इस्तेमाल करना पड़ा। पारी के सातवें ओवर के दौरान कोहली अंपायर के साथ कुछ बातचीत करते हुए दिखे जब राहुल त्रिपाठी के खिलाफ एक फैसला पलटा गया जिसने RCB को पारी का दूसरा महत्वपूर्ण विकेट दिया।

दरअसल, उस गेंद पर अंपायर ने राहुल त्रिपाठी को नॉट आउट करार दिया था, जिसके बाद विराट को DRS का इस्तेमाल करना पड़ा। रिप्ले में साफ दिखाई दे रहा था कि गेंद पहले पैड से टकराई है, जिसके बाद टीवी अंपायर ने फैसले को बदलते हुए त्रिपाठी को आउट करार दिया। हालांकि, तभी विराट कोहली अंपायर के साथ बहस करते हुए दिखे और उनको देखकर ऐसा लगा कि वो उनसे आउट नहीं देने का कारण पूछ रहे हैं।

यहां देखिए विराट और अंपायर के बीच हुई बहस का वीडियो

मैंने RCB के कप्तान के तौर पर अपना 120 प्रतिशत दिया

ये मैच कोहली के लिए बतौर कप्तान आखिरी आईपीएल मैच था, जिसका नतीजा उनके पक्ष में नहीं रहा। मैच के बाद RCB के साथ अपने सफर को लेकर विराट ने कहा,”मैंने काफी कोशिश की है ऐसी परंपरा बनाने की जहां आक्रामक क्रिकेट खेली जा सके। यही चीज मैंने भारतीय टीम में कोशिश की। बस इतना कह सकता हूं कि मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ दिया है। मैंने यहां अपना 120 प्रतिशत दिया और मैदान पर खिताड़ी के रूप में फ्रेंचाइजी को अपना योगदान देता रहूंगा। मेरे लिए इमानदारी मायने रखती है और आईपीएल मे अंतिम दिन तक इसी फ्रेंचाइजी को समर्पित रहूंगा।”