मैं पिछले 2.5 साल से ये कहते-कहते थक गया हूं कि मेरे और रोहित के बीच कोई अनबन नहीं है- विराट कोहली - क्रिकट्रैकर हिंदी

मैं पिछले 2.5 साल से ये कहते-कहते थक गया हूं कि मेरे और रोहित के बीच कोई अनबन नहीं है- विराट कोहली

कोहली ने यह भी साफ कर दिया कि वह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए उपलब्ध हैं।

Virat Kohli
Virat Kohli. (Photo Source: RANDY BROOKS/AFP via Getty Images)

जब से BCCI ने विराट कोहली को वनडे कप्तानी से हटाया है, तब से तरह-तरह की बातें सामने आने लगी हैं। यह भी बताया गया कि भारत के टेस्ट कप्तान ने ब्रेक मांगा है और वह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज के लिए उपलब्ध नहीं होंगे। उसी समय, भारत के नए वनडे कप्तान रोहित शर्मा चोटिल हो गए और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज से बाहर हो गए हैं।

यह सब सिर्फ एक ही बात की ओर इशारा करता था और वह था कि भारतीय क्रिकेट के दो दिग्गज विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच कथित दरार। इतनी सारी रिपोर्टों को सुनने और पढ़ने के बाद, कोहली को खुद बाहर आकर इस मामले में सब कुछ स्पष्ट करने की जरूरत थी। दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जाने से पहले 33 वर्षीय कोहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में आए और कुछ तीखें सवालों का भी जवाब दिया।

विराट कोहली ने रोहित शर्मा के साथ अपने मतभेदों पर दी बड़ी प्रतिक्रिया

कोहली से जब पूछा गया कि क्या उनके और रोहित शर्मा के बीच सब कुछ ठीक है, उसी वक्त कोहली ने उनके बीच दरार की सभी रिपोर्टों को खारिज कर दिया। बल्कि भारतीय टेस्ट कप्तान ने कहा कि टीम टेस्ट सीरीज के दौरान रोहित के अनुभव को बहुत मिस करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि वह यह कहकर थक चुके हैं कि उनके बीच कोई अनबन नहीं है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कोहली ने कहा कि, “मेरे और रोहित शर्मा के बीच कोई समस्या नहीं है। मैं 2.5 वर्षों से यह कहते-कहते थक गया हूं। मैं जो कुछ भी करूंगा वह कभी भी टीम को नीचे की ओर ले जाने के लिए नहीं होगा। मेरे और रोहित के बीच कोई विवाद नहीं है।”

इसके अलावा, विराट कोहली ने यह भी कहा कि वह दक्षिण अफ्रीका के बीच कभी भी ब्रेक नहीं चाहते थे और हमेशा एकदिवसीय सीरीज के लिए उपलब्ध थे। उन्होंने सूत्रों को यह कहते हुए भी फटकार लगाई कि वो बिल्कुल भी विश्वसनीय नहीं हैं। विराट ने कहा कि, “मैं था और मैं इस समय चयन के लिए उपलब्ध हूं। आपको मुझसे ये सवाल नहीं पूछने चाहिए, आपको उनसे पूछना चाहिए जो ये कहानियां लिख रहे हैं, वो विश्वसनीय नहीं हैं – मैं हमेशा एकदिवसीय मैच खेलने के लिए उत्सुक था।”