वसीम जाफर ने वकार युनुस के नमाज वाली टिपण्णी को बताया शर्मनाक - क्रिकट्रैकर हिंदी

वसीम जाफर ने वकार युनुस के नमाज वाली टिपण्णी को बताया शर्मनाक

24 अक्टूबर को पाकिस्तान ने भारत को 10 विकेट से हराया था।

Waqar Younis and Wasim Jaffer (Photo Source: Getty and Twitter)
Waqar Younis and Wasim Jaffer (Photo Source: Getty and Twitter)

1992 से लेकर 2019 तक भारत और पाकिस्तान वनडे और टी-20 वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में कुल 12 बार आमने-सामने हो चुके थे और सभी मैचों में हमारे पड़ोसी मुल्क को हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन 24 अक्टूबर को जब पाकिस्तान ने भारत को टी-20 वर्ल्ड कप में हराया है, उसके बाद से पूर्व पाकिस्तानी खिलाड़ी लगातार विवादास्पद बयान दे रहे हैं। ऐसा ही कुछ बयान वकार युनुस ने भी दिया था जिसपर अब वसीम जाफर ने पलटवार किया है।

वकार युनुस की कौन सी बात वसीम जाफर को लगी शर्मनाक

वकार युनुस ने एक पाकिस्तानी टीवी चैनल पर कहा था कि, बाबर और रिजवान ने जिस तरह से स्ट्राइक रोटेट किया, वह बेहद शानदार रहा लेकिन मैच की सबसे अच्छी बात मोहम्मद रिजवान का हिन्दुओं के बीच मैदान पर नमाज पढ़ना लगा। वकार युनुस का ये बयान पूर्व भारतीय क्रिकेटर वसीम जाफर को बिल्कुल रास नहीं आया और उन्होंने पूर्व पाकिस्तानी तेज गेंदबाज के उस बयान को शर्मनाक करार दिया। जाफर ने ट्वीट कर लिखा, “वकार युनुस की बिल्कुल शर्मनाक और घृणित टिप्पणी।”

यहां देखिए वसीम जाफर का वह ट्वीट

हर्षा भोगले ने भी वकार युनुस के बयान पर दी अपनी प्रतिक्रिया

जाने-माने कमेंटेटर हर्षा भोगले ने भी वकार युनुस के उस विवादित बयान को लेकर ट्वीट किया, “वकार युनुस के कद के इंसान का यह कहना कि रिजवान को हिन्दुओं के सामने नमाज पढ़ते देखना उनके लिए बहुत खास था, यह मेरे लिए जिंदगी की सबसे निराशाजनक बातों में से एक है।”

हालांकि, वकार युनुस की चारों तरफ से आलोचना होने के बाद उन्होंने अपने बयान को लेकर माफी मांगी है। उन्होंने ट्वीट किया, “बातों-बातों में मैंने ऐसा कुछ कह दिया जो मुझे नहीं कहना चाहिए था। जानता हूं कि मेरे इस बयान से कई लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं। मैं उसके लिए माफी मांगता हूं और मैंने ऐसा जानबूझकर नहीं किया था।”