जॉस बटलर ने बताई बड़ी वजह आखिर क्यों इंग्लैंड की टीम द एशेज 2021-22 में अभी तक बेहतर प्रदर्शन नहीं कर सकी - क्रिकट्रैकर हिंदी

जॉस बटलर ने बताई बड़ी वजह आखिर क्यों इंग्लैंड की टीम द एशेज 2021-22 में अभी तक बेहतर प्रदर्शन नहीं कर सकी

एशेज 2021-22 सीरीज में इंग्लैंड की टीम इस समय 0-3 से पीछे चल रही है।

Jos Buttler. (Photo by Jason O’Brien/PA Images via Getty Images)
Jos Buttler. (Photo by Jason O’Brien/PA Images via Getty Images)

द एशेज 2021-22 में इंग्लैंड टीम से सभी को जिस प्रदर्शन की उम्मीद थी, उसका बिल्कुल ही विपरीत मैदान पर देखने को मिला। जिससे फैंस के साथ टीम के खिलाड़ी भी इस समय काफी निराश दिखाई दे रहे हैं। अभी तक खेले गए 3 टेस्ट मैचों में इंग्लैंड की टीम को एकतरफा हार का सामना करना पड़ा है। जिसके चलते वह 5 मैचों की सीरीज में अब 0-3 से पिछड़ चुकी है।

इंग्लैंड की टीम ने ऑस्ट्रेलियाई जमीन पर खेले पिछले 13 टेस्ट मैचों में से उसे 12 में हार का सामना करना पड़ा है। तीसरे टेस्ट मैच में तो इंग्लैंड की टीम को पारी की हार का सामना करना पड़ा जो तीसरे दिन के पहले सत्र में ही समाप्त हो गया था। अब सीरीज का चौथा टेस्ट मैच 5 जनवरी से सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में खेला जाना है।

जिसको लेकर इंग्लैंड टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज जॉस बटलर ने अब अपने दिए बयान में कहा है कि उनकी टीम पर इस सीरीज में 0-5 से हारने का खतरा मंडराते हुए साफतौर पर देखा जा रहा है। जिसको लेकर वह वह कोशिश करेंगे किए मेजबान टीम ऐसा करने में कामयाब ना हो सके।

हम 5-0 से हारने का तमगा नहीं लेना चाहते हैं

जॉस बटलर ने चौथे टेस्ट मैच के शुरू होने से पहले अपने दिए बयान में कहा जो क्रिकबज्ज के अनुसार उन्होंने कहा कि, इस समय हम सभी काफी निराश हैं, जिसमें हम इस दौरे की शुरुआत होने से पहले जिस तरह का खेल खेलना चाहते थे, वैसा बिल्कुल भी नहीं दिखा सके। हम एक टीम की तरह यहां खेलने में कामयाब नहीं हो सके जिससे ऑस्ट्रेलियाई टीम हम पर लगातार हावी दिखाई दी। अब हम ऐसी टीम नहीं बनना चाहते जो 5-0 से इस सीरीज को गंवाए।

बटलर का बतौर बल्लेबाज इस टेस्ट सीरीज में प्रदर्शन उम्मीद के अनुसार देखने को नहीं मिला जिसमें उनका टेस्ट क्रिकेट में औसत जहां 32.35 का रहा है, तो वहीं मौजूदा सीरीज में वह सिर्फ 19.20 के औसत से रन बनाते हुए दिखाई दिए हैं। हालांकि एडिलेड टेस्ट मैच में जरूर बटलर ने 207 गेंदों में 26 रनों की पारी खेलकर टीम को हार से बचाने की कोशिश की थी, लेकिन वह भी किसी काम नहीं आ सकी।