T20I क्रिकेट में टारगेट का बचाव करने में टीम इंडिया क्यों विफल हो रही है? विक्रम राठौर ने बताया कारण - क्रिकट्रैकर हिंदी

T20I क्रिकेट में टारगेट का बचाव करने में टीम इंडिया क्यों विफल हो रही है? विक्रम राठौर ने बताया कारण

भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका सीरीज से पहले विक्रम राठौर ने भारतीय गेंदबाजों का बचाव किया।

Vikram Rathour (Image Source: BCCI/Twitter)
Vikram Rathour (Image Source: BCCI/Twitter)

भारत के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तिरुवनंतपुरम में 28 सितंबर को खेले जाने वाले पहले T20I मैच से पहले स्वीकार किया है कि टारगेट का बचाव करना उन क्षेत्रों में से एक है, जहां भारतीय क्रिकेट टीम को काम करने और बेहतर होने की जरूरत है।

पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ एशिया कप 2022 के सुपर 4 मैचों से भारत की डेथ ओवरों की गेंदबाजी टीम के चिंता का सबब बनी हुई है। आपको बता दें, भारतीय गेंदबाज ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने उच्चतम स्कोर 208/6 का बचाव करने में विफल होने के बाद सभी को काफी निराश किया है। इस बीच, विक्रम राठौर ने आगे भारतीय गेंदबाजों का बचाव करते हुए टॉस और ओस को हालिया निराशाजनक प्रदर्शन के लिए जिम्मेदार ठहराया है।

विक्रम राठौर ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले T20I मैच से पहले कहा: “हम टारगेट का बचाव करने में बेहतर होने पर काम कर रहे हैं। लेकिन सच कहूं तो हमारे गेंदबाजों के लिए टॉस महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, क्योंकि हम ज्यादातर तभी लक्ष्य का बचाव नहीं कर पाते हैं, जहां ओस पड़ती है और चेज करना आसान हो जाता है।

खिलाड़ियों को अपनी योजनाओं पर अमल करने की पूरी आजादी है: विक्रम राठौर

मैं हालिया प्रदर्शन को लेकर अपने गेंदबाजों की आलोचना नहीं करूंगा, क्योंकि वे हर बार मैच को आखिरी ओवर तक ले जाने में सफल रहे हैं, जब हम टारगेट का बचाव कर रहे होते हैं। हालांकि, हम गेंद के साथ बहुत अच्छा कर रहे हैं, लेकिन उम्मीद है कि हम टारगेट का बचाव करने के क्षेत्र में बेहतर होंगे।”

विक्रम राठौर ने आगे बताया कि भारतीय टीम प्रबंधन ने खिलाड़ियों को अपनी योजनाओं पर अमल करने की पूरी आजादी दी है। उन्होंने यह भी कहा कि अर्शदीप सिंह में कठिन परिस्थितियों में दबाव को संभालने की क्षमता है।

भारत के बल्लेबाजी कोच ने अंत में कहा: “अर्शदीप सिंह ने आईपीएल में डेथ ओवरों में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है, इसलिए हम उन्हें अपनी योजनाओं के अनुसार आगे बढ़ने के लिए सपोर्ट करते हैं। अर्शदीप के पास कठिन परिस्थितियों में दबाव को संभालने की क्षमता है। हमारे सभी गेंदबाज जानते हैं कि प्रत्येक बल्लेबाज को कहां गेंदबाजी करनी है, और उन्हें केवल अपनी योजनाओं का पालन करना है, जिसकी उन्हें पूरी छूट है। उन्हें अपनी स्ट्रेंथ पर भरोसा करना होगा। इसके अलावा हमारे पास इस स्तर पर उन्हें बताने के लिए ज्यादा कुछ नहीं है।”