नाम बड़े और दर्शन छोटे- कपिल देव ने सीनियर भारतीय बल्लेबाजों की लगाई क्लास - क्रिकट्रैकर हिंदी

नाम बड़े और दर्शन छोटे- कपिल देव ने सीनियर भारतीय बल्लेबाजों की लगाई क्लास

कपिल देव ने केएल राहुल की कद के अनुसार बल्लेबाजी नहीं करने के लिए कड़ी आलोचना की।

Kapil Dev. (Photo Source: SUJIT JAISWAL/AFP via Getty Images)
Kapil Dev. (Photo Source: SUJIT JAISWAL/AFP via Getty Images)

भारत के पूर्व कप्तान और सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडरों में से एक कपिल देव ने टीम इंडिया के सीनियर बल्लेबाजों विराट कोहली और रोहित शर्मा के फॉर्म पर प्रतिक्रिया दी। आपको बता दें, रोहित शर्मा और विराट कोहली का आईपीएल 2022 (IPL 2022) में हालिया प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा, जिसकी 1983 वर्ल्ड कप विजेता कप्तान ने कड़ी निंदा करते हुए कहा केवल नाम बड़े होने से काम नहीं चलता, मैदान पर बल्ला भी चलना चाहिए।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आगामी टी-20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज के लिए रोहित शर्मा और विराट कोहली को आराम दिया गया गया, क्योंकि इस घरेलू सीरीज के तुरंत बाद भारतीय क्रिकेट टीम इंग्लैंड दौरे के लिए रवाना होगी, जहां मेहमान टीम को 1 जुलाई से पुनर्निर्धारित टेस्ट खेलना है, जिसके बाद वे सीमित ओवरों की सीरीज भी खेलेंगे।

केएल राहुल भारत के कप्तान रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में दक्षिण अफ्रीका सीरीज के दौरान टीम की कमान संभालेंगे। इस घरेलू सीरीज से पहले कपिल देव ने प्रतिष्ठित बल्लेबाजों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद की हैं। उनका मानना है सीनियर बल्लेबाजों को अपने कद के अनुसार प्रदर्शन करने की जरूरत है।

कपिल देव ने राहुल, कोहली और रोहित की लगाई क्लास

कपिल देव ने यूट्यूब चैनल अनकट पर कहा: “विराट और रोहित दोनों बड़े तबगे के खिलाड़ी है, तो जाहिर सी बात है उन पर काफी दबाव होगा, लेकिन ये बल्ले के साथ उनके संघर्ष का कारण नहीं होना चाहिए। इन दोनों प्रतिष्ठित बल्लेबाजों को निडर क्रिकेट खेलना होगा। वे ऐसे खिलाड़ी हैं, जो 150-160 की स्ट्राइक रेट से रन बना सकते हैं। जब भी हमें रोहित और कोहली से रनों की जरूरत होती है, या फिर हमें पारी को तेजी से आगे बढ़ाने  की जरूरत होती है, वे तभी आउट हो जाते हैं। मेरा मानना है चाहे आप एंकर की भूमिका निभाए या फिर स्ट्राइकर की, अगर आप रन नहीं बनाते हैं, तो इससे दबाव बढ़ना तय है।”

इस बीच, पूर्व भारतीय कप्तान ने केएल राहुल की स्वाभाविक आक्रमणकारी बल्लेबाजी करने के बजाय लंबी पारी खेलने के लिए आलोचना की और कहा दाएं-हाथ के बल्लेबाज को प्रभावशाली पारी खेलना चाहिए।

उन्होंने अंत में कहा: “अगर टीम केएल राहुल को पूरे 20 ओवर खेलने के लिए कहती है, लेकिन आप केवल 60 रन बनाकर चुप हो जाते हैं, तो यह टीम के साथ अन्याय हैं। मुझे लगता है कि राहुल को अपना दृष्टिकोण बदलने की जरूरत है, और अगर वह ऐसा नहीं कर पाते, तो फिर हमें खिलाड़ियों को बदलना होगा। एक बड़े खिलाड़ी से प्रभाशाली पारी खेले की उम्मीद की जाती है, जो राहुल इस समय नहीं खेल पा रहे हैं। केवल नाम बड़ा होना ही काफी नहीं है, आपको उसके हिसाब से प्रदर्शन भी करना होता है।”