in

वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के तुरुप का इक्का साबित होंगे एमएस धोनी, 5 कारण

एमएस धोनी भारतीय टीम के सबसे चतुर खिलाड़ी हैं।

MS Dhoni. (Photo Source: Twitter)
MS Dhoni. (Photo Source: Twitter)

धोनी का होगा आखिरी वर्ल्ड कप

ये बात तो तय हो गई है कि महेंद्र सिंह धोनी वर्ल्ड कप 2019 में जरूर खेलेंगे। उनके पिछले कुछ प्रदर्शनों ने उन सवालों पर ताला जड़ दिया है जो उठाए जा रहे थे कि धोनी को टीम इंडिया में ढोना बंद करो। भले ही ऋषभ पंत को भी चुना जाए, लेकिन एमएस धोनी के बिना टीम इंडिया इंग्लैंड नहीं जाएगी।

आखिर क्यों धोनी जरूरी है भारत के लिए? आखिर ऐसी क्या बात है धोनी में? क्या है धोनी की खूबियां? इन सवालों के जवाब नीचे दिए गए पांच कारणों में छिपे हुए हैं।

कारण नंबर 1 : चतुर खिलाड़ी
एमएस धोनी भारतीय टीम के सबसे चतुर खिलाड़ी हैं। उड़ती चिडि़या के पर गिनने वालों की तरह धोनी विकेट के पीछे से बल्लेबाजी की कमियां और खूबियां पढ़ लेते हैं। फिर उसके हिसाब से गेंदबाजों को सलाह देते हैं जो उपयोगी बेहद काम की होती है। कप्तान विराट कोहली जब कठिन मैचों में फंसेंगे तब धोनी की सलाह उनके लिए अति महत्वपूर्ण साबित होगी।

कारण नंबर 2 : बेस्ट फिनिशर
कोई कुछ भी कहे, लेकिन इस बात से इनकार नहीं कर सकता कि धोनी दुनिया के बेहतरीन फिनिशर हैं। मैच को कैसे खत्म किया जाता है कोई उनसे सीखे। वे मैच खत्म नहीं कर लेते तब तक चैन से नहीं बैठते। रनों का पीछा करने में उनका कोई सानी नहीं है। टीम इंडिया यदि बाद में गेंदबाजी कर रही हो तो धोनी अपनी चतुराई से मैच को फिनिश करने में लगे रहते हैं।

कारण नंबर 3 : नाम की धाक
धोनी के नाम में इतना वजन और धमक है कि विरोधी टीम के खिलाड़ियों का मनोबल धोनी के रहने से ही टूट जाता है। उन्हें डर सताता रहता है कि जब तक धोनी है कुछ भी हो सकता है।

कारण नंबर 4 : लगाएंगे पूरा जोर
सभी जानते हैं कि यह एमएस का आखिरी विश्व कप है। इस वर्ल्ड कप को यादगार बनाने में वे कोई कसर बाकी नहीं रखेंगे।

कारण नंबर 5 : आगे-पीछे बेहतरीन प्रदर्शन
विकेट के आगे और पीछे दोनों ओर वे बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुई सीरिज में उन्होंने न केवल रन बनाए बल्कि मैन ऑफ द सीरिज का खिताब भी हासिल किया। विकेट के पीछे वे जबरदस्त हैं। अभी न्यूजीलैंड के खिलाफ हुई सीरिज में उन्होंने मात्र 0.9 सेकंड्स में कर दी। ऐसी बिजली की गति अभी भी उनके पास है।

India’s Suresh Raina. (Photo by PUNIT PARANJPE/AFP/Getty Images)

क्या सुरेश रैना का करियर खत्म हो गया? क्या अब कभी मौका नहीं मिलेगा?

Babar Azam (photo by twitter)

टी20 क्रिकेट में बाबर आजम के तीन हजार रन, 92 पारियों में इस तरह रच दिया इतिहास