in

ज़हीर खान ने खलील अहमद को दे डाली सलाह, बोले- जसप्रीत बुमराह से सीखें

ज़हीर ने कहा कि खलील अहमद को अगर सीखना है तो अपने टीम मैट जसप्रीत बुमराह से सीखें।

Khaleel Ahmed ( image source: twitter)
Khaleel Ahmed ( image source: twitter)

टीम इंडिया के पूर्व पेसर गेंदबाज़ ज़हीर खान ने उभरते बाएं हाथ के बल्लेबाज़ खलील अहमद को वर्ल्ड कप से पहले एक ख़ास सलाह दी है। उन्होंने खलील अहमद से कह डाला कि वह गेंदबाज़ी का तरीका टीम इंडिया के तेज़ गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह से सीखें।

ज़हीर खान टीम इंडिया के एकमात्र बाएं हाथ के सबसे सफल गेंदबाज़ हैं। ज़हीर खान ने टीम इंडिया के लिए तीनों फॉर्मेट में खेलते हुए बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

टीम इंडिया के पास नहीं बाएं हाथ का सफल गेंदबाज़

Zaheer Khan
Zaheer Khan of India bowls. (Photo by Hagen Hopkins/Getty Images)

ज़हीर खान और इरफान पठान के समय के बाद से ही टीम इंडिया अपने बाएं हाथ के पेसर गेंदबाज़ के लिए हमेशा ही जूझती रही है। बरिंदर सरां से लेकर जयदेव उनादकट टीम में आए लेकिन अपनी छाप नहीं छोड़ पाए। वहीं अब खलील अहमद की एंट्री टीम में हुई है। हालांकि खलील अहमद की महज़ अभी शुरुआत भर है।

विदेशी धरती खलील अहमद की कमज़ोरी

खलील अहमद ने साल 2018 में यूएई में खेले गए एशिया कप में यूएई टीम के खिलाफ अपना डेब्यू मैच खेला था। इसके बाद इस खिलाड़ी ने घरेलू सीरीज़ में भी शानदार प्रदर्शन किया। लेकिन जब टीम इंडिया विदेशी दौरों पर गई तो कीवी बल्लेबाज़ों और कंगारू बल्लेबाज़ों ने खलील अहमद को ज्यादा निशाना बनाते हुए रन बनाए।

ज़हीर ने खलील को दी यह सलाह

वर्ल्ड कप से पहले खलील अहमद को एक बाएं हाथ के पेसर गेंदबाज़ के रूप में टीम इंडिया का तीसरा गेंदबाज़ के तौर पर देखा जा रहा है। ज़हीर ने कहा कि इसमें कोई शक नहीं कि खलील अहमद के पास बेहतरीन टेलेंट हैं, लेकिन महत्वपूर्ण मैचों में खलील दबाव में आकर अपनी लय खो जाते हैं।

ज़हीर ने कहा कि खलील अहमद को अगर सीखना है तो अपने टीम मैट जसप्रीत बुमराह से सीखें। जो मुश्किल समय में भी गेंदबाज़ी में नए एक्सपेरिमेंट करते हुए बल्लेबाज़ को परेशान किए रखते हैं।

Afghanistan celebrates. (Photo Source: Twitter)

रोमांचक टी20 मैच में जीता अफगानिस्तान, पांच साल बाद भी आयरलैंड टीम को नहीं हुई जीत नसीब

Hardik Pandya

हार्दिक पांड्या ऑस्ट्रेलिया सीरीज़ से बाहर, वर्ल्ड कप से पहले आई यह बुरी ख़बर