वो तीन मौके जब विपक्षी खिलाड़ियों पर गेंद के बदले जुबान से प्रहार करने लगे थे जसप्रीत बुमराह - क्रिकट्रैकर हिंदी

वो तीन मौके जब विपक्षी खिलाड़ियों पर गेंद के बदले जुबान से प्रहार करने लगे थे जसप्रीत बुमराह

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट में भी बुमराह स्लेजिंग में उलझते हुए दिखे।

Jasprit Bumrah and Marco Jansen. (Photo Source: Disney+Hotstar)
Jasprit Bumrah and Marco Jansen. (Photo Source: Disney+Hotstar)

क्रिकेट के मैदान पर, जसप्रीत बुमराह उन खिलाड़ियों में से हैं जो काफी हद तक सिर्फ अपने खेल पर ध्यान देना पसंद करते हैं। बुमराह अक्सर मैदान पर काफी शांत रहना पसंद करते हैं और उनका ध्यान सिर्फ और सिर्फ विकेट लेने पर होता है। बुमराह पिछले कुछ वर्षों में भारतीय टीम के लिए एक प्रमुख गेंदबाज रहे हैं और उन्हें वर्तमान में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों में से एक के रूप में दर्जा दिया गया है।

हालांकि कुछ मौके ऐसे भी आए हैं जहां बुमराह मैदान पर अपने आप पर काबू नहीं रख पाए हैं और फिर वो सामने वाले टीम के खिलाड़ियों से उलझते हुए भी दिखे हैं। ऐसा ही कुछ जोहान्सबर्ग टेस्ट के तीसरे दिन बुमराह और मार्को जेनसन के बीच देखने को मिला और इससे पहले भी एक दो बार उन्हें इस तरह के जुबानी जंग में उलझते हुए देखा गया है।

इस लेख में हम उन तीन घटनाओं पर एक नजर डालेंगे जब जसप्रीत बुमराह क्रिकेट को छोड़कर जुबानी जंग में शामिल हो गए थे

1) जसप्रीत बुमराह बनाम एबी डिविलियर्स

Jasprit Bumrah and AB de Villiers. (Photo Source: IPL/BCCI)
Jasprit Bumrah and AB de Villiers. (Photo Source: IPL/BCCI)

बुमराह और डिविलियर्स के बीच ये भिड़ंत काफी पहले हो गई थी। 2017 में ‘व्हाट द डक’ के एक एपिसोड के दौरान, बुमराह ने स्वीकार किया कि उन्होंने आईपीएल 2014 में अपना विकेट हासिल करने के बाद एबी डिविलियर्स को स्लेज किया था। एबी ने उनकी प्रतिक्रिया नहीं देखी और ड्रेसिंग रूम में वापस चले गए।

मैच के बाद, बुमराह को एबी डिविलियर्स जैसे दिग्गज खिलाड़ी को स्लेजिंग करने को लेकर सोशल मीडिया से काफी आलोचना झेलनी पड़ी थी। बुमराह ने कहा कि वह विरोधियों को स्लेज करना पसंद नहीं करते और शांत रहने की कोशिश करते हैं। उन्होंने यह भी नोट किया कि जब कोई क्रोधित होता है, तो इससे उनके प्लान पर असर पड़ता है, और यह खिलाड़ी के प्रदर्शन में बाधा उत्पन्न कर सकता है।

डिविलियर्स ने अब क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया है और वह आईपीएल के आगामी संस्करण में शामिल नहीं होंगे। इसलिए, प्रशंसक अब इन दोनों के बीच कोई जंग देखने को नहीं मिलेगा। आईपीएल में बुमराह के खिलाफ डिविलियर्स का दबदबा था क्योंकि वह उनके खिलाफ 112 रन बनाए और केवल दो बार आउट हुए। बुमराह जिस घटना की बात कर रहे थे, वह 6 मई 2014 की है, जब उन्होंने डिविलियर्स को महज नौ रन पर बोल्ड कर दिया था।