वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अक्टूबर में त्रिकोणीय सीरीज खेल सकती है अफगानिस्तान - क्रिकट्रैकर हिंदी

वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अक्टूबर में त्रिकोणीय सीरीज खेल सकती है अफगानिस्तान

इस सीरीज का आयोजन टी-20 वर्ल्ड कप से पहले अक्टूबर के पहले हफ्ते में किया जाएगा।

Afghanistan
Afghanistan. (Photo Source: Twitter)

तालिबानी कब्जे के बाद से अफगानिस्तान देश सहित वहां की क्रिकेट की स्थिति चरमरा गई है। आतंकवादी कब्जे के बाद से उस देश के लिए कुछ भी सही नहीं हो रहा है। हालांकि, सूत्रों की मानें तो श्रीलंका में पाकिस्तान के खिलाफ होने वाली सीरीज रद्द होने के बाद अब अफगान टीम अक्टूबर में होने वाले ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के खिलाफ त्रिकोणीय सीरिज खेलने के लिए तैयार है। इस त्रिकोणीय सीरीज का आयोजन अफगानिस्तान बोर्ड को ही करना है जो टी-20 वर्ल्ड कप से ठीक पहले खेला जाएगा।

इस त्रिकोणीय सीरीज के अलावा अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने ये भी साफ कर दिया है कि नवंबर में उनकी टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होबार्ट में एक टेस्ट मैच खेलेगी। अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सीईओ हामिद शेनवारी ने उम्मीद जताई है कि अफगानिस्तान की टीम जल्द ही क्रिकेट खेलना शुरू करेगी और इसका संकेत उन्होंने दो अफगान टीमों के बीच दोस्ताना मैच करवा कर दे दिया था। उम्मीद यही की जा रही है कि अगर ये त्रिकोणीय सीरीज होती है तो ये कतर और यूएई में से किसी वेन्यू पर खेली जाएगी।

ऑस्ट्रेलिया दौरे को लेकर ACB सीईओ का बयान

ईएसपीएन क्रिकइंफो से बातचीत करते हुए हामिद शेनवारी ने बताया कि “उम्मीद है कि जल्द ही हमारी टीम त्रिकोणीय सीरीज खेलने के लिए रवाना होगी। हम इस त्रिकोणीय सीरीज का आयोजन यूएई या कतार जैसे देशों में करवाने की कोशिश कर रहे हैं। हमें मैनेजमेंट का पूरा साथ मिला है और टी-20 वर्ल्ड कप के बाद हम ऑस्ट्रेलिया में एक टेस्ट मैच भी खेलेंगे। ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट से इसको लेकर बातचीत चल रही है और वर्ल्ड कप के बाद हमारी टीम वहां के लिए रवाना होगी।”

हालांकि, अगर ये त्रिकोणीय सीरीज तय समय पर खेली जाती है तो ये आईपीएल के दूसरे फेज से टकरा सकती है जिसके कारण इस सीरीज में कुछ बड़े खिलाड़ी हिस्सा लेते हुए नजर नहीं आएंगे। इसके बावजूद इस त्रिकोणीय सीरीज से अफगान क्रिकेट फैंस को काफी खुशी मिलेगी क्योंकि पिछले कुछ हफ्ते तनावपूर्ण माहौल में बिताने के बाद इस क्रिकेट सीरीज का आयोजन किया जा रहा है।