मिश्रा जी से हो गई भारी मिस्टेक, कीवी टीम को पहना दिया जीत का ताज - क्रिकट्रैकर हिंदी

मिश्रा जी से हो गई भारी मिस्टेक, कीवी टीम को पहना दिया जीत का ताज

टी-20 वर्ल्ड कप फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को 8 विकेट से हराया।

Amit Mishra. (Photo Source: Twitter)
Amit Mishra. (Photo Source: Twitter)

14 नवंबर को दुबई के मैदान पर टी-20 वर्ल्ड कप 2021 का फाइनल खेला गया, जहां ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को 8 विकेट से हराकर इस टूर्नामेंट पर अपना कब्जा जमाया। एरोन फिंच की टीम ने सात गेंद शेष रहते 173 रनों का पीछा किया और अपना छठा वर्ल्ड कप खिताब हासिल किया। इस बीच भारत के अमित मिश्रा अपने गलत ट्वीट की वजह से ट्रोल हो गए।

अमित मिश्रा ने पहनाया न्यूजीलैंड को जीत का ताज

अनुभवी लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने दुबई में रविवार के मैच के बाद गलती से केन विलियमसन की अगुवाई वाली न्यूजीलैंड को जीत की बधाई दे दी। साथ ही उन्होंने ओमान और यूएई में खेले गए टी-20 वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन करने के लिए कीवी टीम की सराहना भी की। उन्होंने ट्वीट किया, “वर्ल्ड कप ट्रॉफी जीतने पर टीम @BLACKCAPS को बधाई। टीम का शानदार प्रयास। बहुत अच्छा खेला।।”

इसके बाद फैंस ने उन्हें गलती के लिए कुछ हद तक ट्रोल किया। बाद में मिश्रा ने इस ट्वीट को हटा दिया और दूसरा ट्वीट कर ऑस्ट्रेलिया को जीत की बधाई दी।

यहां देखिए अमित मिश्रा का वह ट्वीट

Amit Mishra tweet. (Photo Source: Twitter)
Amit Mishra tweet. (Photo Source: Twitter)

इस मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया लेकिन कीवी टीम शुरुआती दस ओवरों में ज्यादा रन नहीं बना सकी। हालांकि, अंतिम ओवरों में न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने तूफानी बल्लेबाजी करते हुए गेंदबाजों की जमकर धुनाई की और कीवी टीम 20 ओवरों में  172 रन का मजबूत स्कोर हासिल करने में सफल रही। लक्ष्य का पीछा करने उतरीऑस्ट्रेलियाई टीम ने अलग ही अंदाज में बल्लेबाजी की।

एरोन फिंच का विकेट जल्दी गंवाने के बाद मिचल मार्श और डेविड वॉर्नर ने तूफानी बल्लेबाजी करते हुए मैच को एकतरफा बना दिया। वॉर्नर ने 53 रनों की पारी खेली, वहीं मार्श 77 रन बनाकर नाबाद लौटे। ऑस्ट्रेलिया ने शानदार तरीके से अपना पहला टी-20 वर्ल्ड कप ट्रॉफी अपने नाम किया। मार्श को उनकी शानदार बल्लेबाजी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब मिला जबकि वॉर्नर प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट बने।