पूर्व भारतीय कप्तान ने चेतेश्वर पुजारा की जल्द टीम इंडिया में वापसी का किया दावा - क्रिकट्रैकर हिंदी

पूर्व भारतीय कप्तान ने चेतेश्वर पुजारा की जल्द टीम इंडिया में वापसी का किया दावा

पुजारा इस बार के काउंटी चैंपियनशिप में ससेक्स की ओर से खेल रहे हैं।

Cheteshwar Pujara. (Photo by Mike Hewitt/Getty Images)
Cheteshwar Pujara. (Photo by Mike Hewitt/Getty Images)

भारतीय टेस्ट टीम में अपनी जगह खोने और रणजी ट्रॉफी में इस साल अच्छा प्रदर्शन ना करने के बाद चेतेश्वर पुजारा ने काउंटी चैंपियनशिप के पूरे सीजन के लिए खुद को उपलब्ध कर दिया था, जिससे उन्होंने एक बार फिर से अपने क्रिकेट करियर को पुनर्जीवित कर दिया है। यह उनके लिए अच्छा रहा क्योंकि उनका प्रदर्शन इस साल की काउंटी चैंपियनशिप में काफी धमाकेदार रहा है।

वो लगातार शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं, साथ ही उन्होंने अभी तक इस चैंपियनशिप में दो दोहरे शतक भी लगाए हैं। बता दें कि पुजारा इस बार काउंटी चैंपियनशिप में ससेक्स की ओर से खेल रहे हैं। पुजारा के काउंटी चैंपियनशिप में बेहतरीन प्रदर्शन के बावजूद भारतीय दिग्गज सुनील गावस्कर ने कहा कि सौराष्ट्र के इस क्रिकेटर को भारत के आगामी इंग्लैंड दौरे पर होने वाले टेस्ट मैच के लिए विचार किया जा सकता है।

चेतेश्वर पुजारा को इंग्लिश परिस्थितियों में बल्लेबाजी करने की आदत हो गई है: सुनील गावस्कर

गावस्कर ने माना कि आगामी इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट से पहले पुजारा का इंग्लिश परिस्थितियों में अच्छा प्रदर्शन साबित करता है कि वे वहां की पिचों को समझ चुके हैं। उन्होंने पिछले साल हुए वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल का उदाहरण देते हुए समझया कि कैसे न्यूजीलैंड को उस फाइनल से पहले इंग्लैंड में दो टेस्ट खेलने का फायदा हुआ। उन्होंने कहा, “इंग्लैंड में 2 टेस्ट खेलने से कीवी टीम को वहां के मैदानों का आईडिया हो गया था और उन्होंने कमाल का प्रदर्शन किया था।”

सुनील गावस्कर ने स्पोर्ट्स तक से बात करते हुए कहा कि, “उस समय बारिश हो रही थी और न्यूज़ीलैंड को वहां की परिस्थिति अच्छे से मालूम थी। चेतेश्वर पुजारा को भी काउंटी चैंपियनशिप खेलते हुए इंग्लैंड की परिस्थितियां मालूम हो गई है। माना कि काउंटी गेंदबाजी और अंतरराष्ट्रीय टेस्ट गेंदबाजी में काफी फर्क है, लेकिन जब एक बल्लेबाज फॉर्म में होता है तो इसका फायदा उठाना चाहिए और उन्हें आने वाली श्रृंखला में मौका देना चाहिए।”

गावस्कर ने आगे कहा कि तीसरे नंबर के बल्लेबाज पुजारा को भारत की प्लेइंग XI में इसलिए भी शामिल किया जाना चाहिए क्योंकि यह वरिष्ठ क्रिकेटर गेंदबाज को थकाने के साथ-साथ स्थिति की मांग होने पर एक छोर पर टिके रहता है और अपना विकेट जल्द नहीं गवाते हैं। बता दें कि काउंटी चैंपियनशिप में चेतेश्वर पुजारा ने 143.40 की औसत और 61.22 की स्ट्राइक रेट से 717 रन बनाए हैं।