आईपीएल 2018: मैच के दौरान चेन्नई की टीम पर फेंका गया जूता, डुप्लेसिस को लगा जूता - क्रिकट्रैकर हिंदी

आईपीएल 2018: मैच के दौरान चेन्नई की टीम पर फेंका गया जूता, डुप्लेसिस को लगा जूता

Csk (Photo source: Twitter)
Csk (Photo source: Twitter)

आईपीएल सीजन 11 का पांचवा मैच चेन्नई और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच खेला जा रहा था. लेकिन इस मैच के दौरान एक गंभीर घटना घटी जिसने सबको चौंका कर रख दिया. चेन्नई सुपर किंग्स जब मैदान में फील्डिंग कर रही थी. तब अचानक मैदान के अंदर किसी ने जूता फेंका. मैदान के जिस हिस्से में जूता फेंका गया वहां जडेजा फील्डिंग कर रहे थे. कोलकाता नाइट राइडर्स के आठवें ओवर में यह घटना घटी.

मैच के दौरान जूता फेंकने वाला प्रदर्शनकारी बताया जा रहा है. क्रिक इंफो के रिपोर्ट के मुताबिक जिस किसी ने जूता फेंका वह चेन्नई के फील्डर रविंद्र जडेजा को निशाना बनाकर फेका था और जूता पतत्ताविरामन गेट की ओर से फेंका गया. मैदान के अंदर फेंके गए जूते में एक जूता दक्षिण अफ्रीकी कप्तान फाफ डू प्लेसिस को जाकर लगा जिससे वह काफी नाराज दिखे.

इस घटना से डुप्लेसिस काफी नाराज दिखे और उन्होंने जूता फिर दर्शक दीर्घा की ओर फेंक दीया डु प्लेसिस मैच नहीं खेल रहे थे जिसके बाद चेन्नई सुपर किंग्स के अधिकारी मैदान के पास पहुंचकर सीमा रेखा के पास बैठे लोगों को वहां से हटा दिया. वही इस मामले में पुलिस ने 2 लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया है.

वही मैदान में हुए इस घटना का कारण कावेरी जल विवाद बताया जा रहा है. क्योंकि मैच से पहले भी कई राजनीतिक दलों के प्रदर्शनकारी सर्वोच्च न्यायालय द्वारा निर्देशित प्रबंधन बोर्ड और कावेरी जल नियामक समिति का गठन नहीं करने को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी कर रहे थे. कावेरी विवाद के आंदोलनकारियों ने भी चेन्नई सुपर किंग्स की टीम को अपने विरोध में शामिल होने की अपील की है. वही तमिल फिल्म स्टार और राजनेता रजनीकांत ने भी चेन्नई की टीम से ऐसी ही अपील की थी.

क्या है कावेरी जल विवाद: 

कावेरी नदी जिसका उद्गम स्थल कर्नाटक है और यह लगभग साढ़े सौ किलोमीटर लंबी है. और विवाद यह है कि कम बारिश की वजह से नदी का जल स्तर की मात्रा में कमी आ गई है. जिसके कारण कर्नाटक ने तमिलनाडु को पानी देने से मना कर दिया है. और यही वजह है कि पिछले कई सालों से यह विवाद चलता आ रहा है.