इंग्लैंड क्रिकेट टीम के फैंस ने स्टेडियम में मौजूद भारतीय फैंस और खिलाड़ियों पर की नस्लीय टिप्पणी - क्रिकट्रैकर हिंदी

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के फैंस ने स्टेडियम में मौजूद भारतीय फैंस और खिलाड़ियों पर की नस्लीय टिप्पणी

हालांकि भारत क्रिकेट टीम के किसी भी खिलाड़ी ने इस तरह की घटना को लेकर शिकायत दर्ज नहीं कराई है।

England Cricket Team Fans. (Photo by PAUL ELLIS/AFP via Getty Images)
England Cricket Team Fans. (Photo by PAUL ELLIS/AFP via Getty Images)

भारतीय टीम का साल 2020-21 का ऑस्ट्रेलिया दौरा काफी विवादों से भरा दिखा था, जिसमें मोहम्मद सिराज और दूसरे भारतीय खिलाड़ियों पर स्टेडियम में मौजूद दर्शकों से नस्लीय टिप्पणी का शिकार होना पड़ा था और इसको लेकर उन दर्शकों को स्टेडियम से बाहर भी भेज दिया गया था। वहीं इस समय भारतीय टीम इंग्लैंड में मौजूद है जहां वह 5 टेस्ट मैचों की सीरीज खेल रही है।

इंग्लैंड में हमेशा क्रिकेट देखने आने वाले दर्शकों को काफी अच्छा माना जाता है क्योंकि वह विरोधी टीम के खिलाड़ियों के अच्छे प्रदर्शन पर उनकी तारीफ करते हैं। इंग्लैंड में कभी भी नस्लीय टिप्पणियों को लेकर किसी भी तरह की शिकायत देखने को नहीं मिली है। लेकिन इस बार इंग्लैंड और भारत के बीच नॉटिंघम टेस्ट मैच के दौरान एक ब्रिटिश भारतीय महिला ने इस तरह की घटना का खुलासा किया है।

अपने अनुभव को साझा करने के लिए उस फैन ने रेडिट में पूरे घटना के बारे में बताया जिसमें उसने लिखा कि इंग्लैंड टीम के फैन लगातार अभद्र भाषा का उपयोग करने के साथ भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों पर नस्लीय टिप्पणियां कर रहे थे। उस महिला ने बताया कि वह भारतीय टीम के तेज गेंदबाज सिराज और शमी पर टिप्पणी करने के सात भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली पर भी उन्होंने अभद्र तरीके से टिप्पणी की। वहीं उन्होंने मेहमान टीम को आलसी और बेईमान भी कहा।

इंग्लिश फैंस ने कहा ‘गो बैक इंडिया’

उस फैन ने घटना के बारे में आगे बताया कि जब लगातार इंग्लिश फैंस इस तरह की भाषा का उपयोग कर रहे थे, तो उन्होंने रोकने की कोशिश की जिस पर उन्होंने जवाब देते हुए उनकी राष्ट्रियता के बारे में पूछ लिया। इस पर जब फैन ने उन्हें थोड़ी सम्मान के साथ बात करने को कहा तो उन्होंने गो बैक इंडिया के नारे लगाना शुरू कर दिया।

इसके बाद उन्होंने यह घटना मैदान में मौजूद सुरक्षाकर्मियों से की जिसपर उन्होंने तुरंत एक्शन लिया। उन्होंने उस 31 साल के व्यक्ति को मैदान से बाहर कर दिया जिसने गो बैक इंडिया के नारे लगाए थे। वहीं उस महिला और उसके साथ मौजूद बाकी भारतीय फैंस को स्टैंड के दूसरी तरफ भेज दिया गया जहां पर अधिक भारतीय फैंस मौजूद थे।