in

इन चार वजह से पाकिस्तान टीम जीत सकती है वर्ल्ड कप 2019 का ख़िताब, नंबर 3 सबसे ख़ास

पाकिस्तान का गेंदबाज़ी आक्रामण मौजूदा समय में काफी घातक है। ऐसे में साल 2019 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में यह टीम काफी धमाल मचा सकती है।

Pakistan team  (Photo by Christiaan Kotze / AFP) (Photo credit should read CHRISTIAAN KOTZE/AFP/Getty Images)

पाकिस्तान टीम हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के दौरे से वापस लौटी है। इसके बाद पाकिस्तान टीम को यूएई में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज़ खेलनी है। दक्षिण अफ्रीका दौरे को अगर छोड़ दें तो पाकिस्तान टीम मौजूदा समय में बेहतरीन फॉर्म में नज़र आ रही है।

पाकिस्तान का गेंदबाज़ी आक्रामण मौजूदा समय में काफी घातक है। ऐसे में साल 2019 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में यह टीम काफी धमाल मचा सकती है। पाकिस्तान टीम के पास चार ऐसी मजबूत वजह हैं। जिससे यह टीम वर्ल्ड कप का खिताब जीतने की प्रबल दावेदार है।

1- मजबूत तेज़ गेंदबाज़ी आक्रामण

पाकिस्तान टीम के पास मौजूदा समय में सबसे बेहतरीन तेज़ गेंदबाज़ी आक्रामण है। पाकिस्तान के सभी तेज़ गेंदबाज़ 140 प्रति घंटा की रफ्तार से गेंदबाज़ी करने में सक्षम हैं। यही कारण है कि इंग्लैंड की उछाल भरी पिचों पर यह गेंदबाज़ पाकिस्तान की जीत के सूत्राधार हो सकते हैं।

पाकिस्तान के पास मोहम्मद आमिर के रूप में दुनिया का सबसे बेहतरीन तेज़ गेंदबाज़ और स्विंग गेंदबाज़ है। वहीं उनके साथ मोहम्मद उस्मान शेनवारी, जुनैद खान जैसे चतुर गेंदबाज़ है। तीसरे गेंदबाज़ के रूप में पाकिस्तान के पास हसन अली जैसा गेंदबाज़ है।

2- उलटफेर करने में सक्षम है पाकिस्तानी टीम

पाकिस्तान मौजूदा समय में एकमात्र ऐसी टीम है। जो मजबूत टीम होने के बावजूद कई अहम मौकों पर लड़खड़ा जाती है। वहीं कई बार यह टीम नाजुक मौकों पर बहुत मजबूत रूप से उभर कर आती है और मैच की तस्वीर बदल देती है। यही कारण है कि कोई भी बड़ी टीम पाकिस्तान को कमजोर टीम समझते हुए नहीं खेलती। पाकिस्तान बड़े टूर्नामेंटों में उलटफेर करने में काफी माहिर टीम है।

3- पाकिस्तान को रास आते हैं इंग्लैंड के मैदान

पाकिस्तान के लिए साल 2019 वर्ल्ड कप का फाइनल का सफर इस वजह से भी थोड़ा आसान हो सकता है कि इस टीम को इंग्लैंड के मैदान काफी रास आते हैं। पाकिस्तान के बल्लेबाज़ और गेंदबाज़ संयुक्त रूप से इन मैदानों में बेहतरीन प्रदर्शन करते हैं। साल 1999 के वर्ल्डकप में पाकिस्तान टीम ने इंग्लैंड में दमदार प्रदर्शन किया था।

साल 2009 में टी20 वर्ल्ड कप का फाइनल पाकिस्तान ने इंग्लैंड में जीता। साल 2017 में पाकिस्तान की युवा टीम ने कप्तान विराट कोहली की टीम को पटकनी देते हुए चैंपियंस ट्राफी का फाइनल जीता। ऐसे में सरफराज अहमद की टीम दोबारा एक बार फिर इतिहास दोहराने के लिए इंग्लैंड के मैदान में उतरेगी।

4- बड़े टूर्नामेंट का फाइनल जीतने में कप्तान सरफराज का रिकॉर्ड

सरफराज अहमद घरेलू सीरीज़ में भले ही बेहतर प्रदर्शन करने से चूक जाते हों लेकिन यह पाकिस्तानी कप्तान बड़े टूर्नामेंट के फाइनल में टीम के लिए किसी संजीवनी से कम नहीं है।

सरफराज की कप्तानी में पाकिस्तान अंडर 19 टीम ने साल 2006 में वर्ल्ड कप जीता। इसके बाद सरफराज की कप्तानी में ही साल 2017 में पाकिस्तानी टीम ने भारतीय टीम को चैंपियंस ट्राफी में हराया।

Krunal Pandya (Photo by bcci/twitter)

रोहित ने प्रतिभावान खिलाड़ियों की अनदेखी कर इस चहेते खिलाड़ी को दिए मौके, सीरीज़ की बड़ी गलती

Babar Azam. (Photo Source: CHRISTIAAN KOTZE/AFP/Getty Images)

बाबर आजम ने विराट कोहली से लगातार हो रही तुलना पर दिया यह बड़ा बयान