न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज के लिए भारतीय टीम में चुने गए ऑलराउंडर खिलाड़ी वेंकटेश अय्यर ने कही अब यह बात - क्रिकट्रैकर हिंदी

न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज के लिए भारतीय टीम में चुने गए ऑलराउंडर खिलाड़ी वेंकटेश अय्यर ने कही अब यह बात

वेंकटेश अय्यर ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2021 के दूसरे फेज में अपने बल्ले से दिखाया था, कमाल।

Venkatesh Iyer. (Photo Source: IPL/BCCI)
Venkatesh Iyer. (Photo Source: IPL/BCCI)

न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाली 3 मैचों की टी-20 सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान 9 नवंबर को चयनकर्ताओं ने कर दिया। जिसमें कई बड़े नाम नदारद हैं और ऐसा होने की भी पूरी उम्मीद थी क्योंकि कई बड़े खिलाड़ी पिछले काफी समय से लगातार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहे थे। 17 नवंबर से शुरू होने वाली इस टी-20 सीरीज से विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और रवींद्र जडेजा को आराम दिया गया है।

हालांकि इस सीरीज के लिए हार्दिक पांड्या को टीम में जगह ना देने पर भी काफी सवाल खड़े हो रहे हैं, क्योंकि उन्हें आराम देना का कारण नजर नहीं आ रहा है, वहीं ऐसी भी संभावना जताई जा रही है कि उनका प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक ना होने की वजह से उन्हें टीम में जगह नहीं दी गई है। जिसमें वेंकटेश अय्यर जो एक ऑलराउंडर खिलाड़ी हैं, उन्हें टीम में शामिल किया गया है।

वेंकटेश अय्यर की बात की जाए तो उन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2021 के सीजन के यूएई में खेले गए दूसरे फेज में अपने प्रदर्शन से काफी सुर्खियां बटोरी थी। वेंकटेश जो कोलकाता नाइट राइडर्स टीम का हिस्सा थे उनकी आक्रामक बल्लेबाजी के दम पर ही केकेआर की टीम ने फाइनल तक का सफर भी तय किया था। वहीं उन्होंने गेंदबाजी से भी अपना कमाल दिखाया।

मैं एक ऑलराउंडर हूं जिस वजह से दोनों ही चीजों पर ध्यान लगाना बेहद जरूरी है

IPL 2021 के सीजन में शानदार प्रदर्शन के दम पर वेंकटेश अय्यर का भारतीय टीम में शामिल होने की संभावनाएं काफी पहले ही बढ़ चुकी थी। वहीं मध्यम गति के तेज गेंदबाज होने के साथ अय्यर ने अपनी बल्लेबाजी के साथ गेंदबाजी दोनों पर ही जूनियर लेवल क्रिकेट दिनों से ध्यान लगाना शुरू कर दिया था ताकि फिटनेस की समस्या से ना जूझना पड़े।

26 साल के वेंकटेश अय्यर ने इंडियन एक्सप्रेस को दिए अपने बयान में कहा कि, मेरा वर्कलोड अभी तक काफी शानदार रहा है। मैं एक ऑलराउंडर खिलाड़ी हूं जिस वजह से मुझे खेल के इन दोनों ही विभागों पर पूरा ध्यान लगाना जरूरी है। इसी कारण मैं जूनियर लेवल क्रिकेट के दिनों से इस एक बात पर हमेश पूरा ध्यान देता था। मैने हमेशा रेड बॉल क्रिकेट पर काफी ध्यान लगाया क्योंकि जब आप भारत के लिए खेलते हैं, तो आप सिर्फ एक फॉर्मेट को ध्यान में रखकर आगे नहीं बढ़ सकते।