टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड के हालिया प्रदर्शन को देखकर काफी प्रभावित हुए रॉबर्ट की - क्रिकट्रैकर हिंदी

टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड के हालिया प्रदर्शन को देखकर काफी प्रभावित हुए रॉबर्ट की

हाल के दिनों में टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड ने किया है शानदार प्रदर्शन।

Ben Stokes and Brendon McCullum (Photo by Stu Forster/Getty Images)
Ben Stokes and Brendon McCullum (Photo by Stu Forster/Getty Images)

इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के प्रबंध निदेशक रॉबर्ट की ने अपनी टीम की जमकर तारीफ की है। उनका मानना है कि, बेन स्टोक्स और ब्रेंडन मैकुलम के आने के बाद से टीम ने जिस तरह से टेस्ट क्रिकेट में प्रदर्शन किया है वो काफी शानदार है। इसके साथ ही उन्होंने इस बात को स्वीकार किया कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि यह एक कदम टीम के लिए इतना फायदेमंद साबित होगा।

जब से स्टोक्स और मैकुलम क्रमशः इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान और कोच बने, तब से उन्होंने चार टेस्ट मैच खेले हैं और चारों में उन्हें जीत हासिल हुई है। कुछ मैचों में तो उन्होंने चौथी पारी में 250 से अधिक रनों के लक्ष्य का पीछा करने के दौरान जीत हासिल की। इन दोनों के टीम में आने के बाद से खिलाड़ियों ने आक्रामक क्रिकेट खेलना शुरू किया है।

स्टोक्स और मैकुलम के आने के बाद टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड की शानदार प्रगति हुई है- रॉबर्ट की

बीबीसी टेस्ट मैच स्पेशल से बात करते हुए रॉबर्ट की ने कहा कि इस जोड़ी की प्रगति शानदार रही है। मध्यक्रम के पूर्व बल्लेबाज ने यह भी कहा कि “बैज़बॉल” शब्द इंग्लैंड की प्रगति को बताता है और कहा कि यही खिलाड़ियों की मानसिकता में बदलाव के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार है।

उन्होंने कहा कि, “मैंने कभी नहीं सोचा था कि यह इतना फायदेमंद साबित होगा। कई बार ऐसा होगा जब यह काम नहीं करेगा, लेकिन अभी के लिए यह देखना शानदार रहा है। मैं बेजबॉल शब्द को लेकर दीवाना नहीं हूं। यह ऐसी चीज नहीं है जिसका मैं विशेष रूप से आनंद लेता हूं क्योंकि यह इस बात की गवाही देता है कि स्टोक्स और मैकुलम ने टीम के लिए क्या किया है।”

इस बीच रॉबर्ट की ने यह भी बताया कि, जब टेस्ट टीम के लिए कोच को चुनने की बारी आई तो वो ऐसे शख्स को ये जिम्मेदारी देना चाहते थे जो खिलाड़ियों को खुलकर खेलने की आजादी दे न कि खिलाड़ियों के ऊपर दबाव बनाए। और की नजरों को में इस काम के लिए मैकुलम से अच्छा कोई व्यक्ति नहीं था।