मैं 2022 में, 2016-18 वाले विराट कोहली की एक झलक देखना चाहता हूं- हर्षा भोगले - क्रिकट्रैकर हिंदी

मैं 2022 में, 2016-18 वाले विराट कोहली की एक झलक देखना चाहता हूं- हर्षा भोगले

हर्षा भोगले ने विराट कोहली के करियर में आए उतार-चढाव को बेहद करीब से देखा है।

Harsha Bhogle and Virat Kohli (Photo Source: Getty Images)
Harsha Bhogle and Virat Kohli (Photo Source: Getty Images)

कुछ साल पहले तक विराट कोहली के लिए शतक बनाना मानो उनका हर रोज का काम लगता था। हालांकि, ऐसा लग रहा था कि पिछले कुछ वर्षों में चीजें बदल गई हैं। दाएं हाथ के बल्लेबाज ने नवंबर 2019 के बाद से कोई अंतरराष्ट्रीय शतक नहीं बनाया है और यह देखना दिलचस्प होगा कि इंतजार कब खत्म होगा। चूंकि ये 2022 के शुरुआती दिन हैं, कई प्रशंसक और विशेषज्ञ उनसे बहुत उम्मीद लागए बैठे हैं

सभी चाहते हैं कि कोहली पिछले दो वर्षों को भूलकर आगे बढे और अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन को एक बार फिर से दोहराए। उनमें से एक अनुभवी भारतीय कमेंटेटर और विश्लेषक हर्षा भोगले हैं। वॉयस ऑफ क्रिकेट के रूप में प्रसिद्ध, भोगले ने कोहली के पूरे करियर को करीब से देखा है और 2022 में अपना सर्वश्रेष्ठ देखना चाहते हैं।

विराट कोहली का 2016-2018 वाला रूप देखना चाहता हूं- हर्षा भोगले

अनुभवी कमेंटेटर जाहिर तौर पर चाहते हैं कि कोहली 2016 और 2018 के बीच अपने फॉर्म की झलक दिखाएं। बता दें कि 2018 तक कोहली अपने जीवन के सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में थे इस दैरान हर साल हर सीरीज में उन्होंने रनों का पहाड़ खड़ा किया था और उनके बल्ले से एक से बढ़कर एक आतिशी पारी निकली थी।

सुनंदन लेले के शो क्रिकेट एंड बियॉन्ड में 2022 से उनकी उम्मीदों के बारे में पूछे जाने पर हर्षा भोगले ने कहा, “2022 में, मैं 2016-2018 तक विराट कोहली की कम से कम एक झलक देखना पसंद करूंगा।” बता दें कि कोहली फिलहाल दक्षिण अफ्रीका में हैं जहां वो पहला टेस्ट मैच खेलने के बाद दूसरे टेस्ट मैच से बाहर हो गए थे।

पीठ के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जोहान्सबर्ग टेस्ट से बाहर होना पड़ा। उनकी अनुपस्थिति में केएल राहुल ने नेतृत्व किया और भारत को सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा। वहीं उनकी फिटनेस पर हेड कोच राहुल द्रविड़ ने जानकारी साझा की है।

द्रविड़ ने कहा, “विराट कोहली को सभी खातों से ठीक होना चाहिए, उन्हें ठीक होना चाहिए। उन्हें थोड़ा इधर-उधर दौड़ने का अवसर मिला है, और थोड़ा सा ट्रेनिंग करने का अवसर मिला है। उम्मीद है कि केपटाउन में कुछ नेट सत्र के साथ, वह खेलने के लिए तैयार होंगे।”