अफगानिस्तान पर लग सकता है बैन, ICC अध्यक्ष ग्रेग बार्कले ने बताई इसकी वजह - क्रिकट्रैकर हिंदी

अफगानिस्तान पर लग सकता है बैन, ICC अध्यक्ष ग्रेग बार्कले ने बताई इसकी वजह

धार्मिक और अन्य कारणों से महिला क्रिकेट के बदलाव में देरी हो रही है: ग्रेग बार्कले

Afghanistan woman. (Photo by AREF KARIMI/AFP via Getty Images)
Afghanistan woman. (Photo by AREF KARIMI/AFP via Getty Images)

अफगानिस्तान में महिला क्रिकेट की पर्याप्त प्रगति नहीं करने के साथ अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) एक बड़ी चुनौती का सामना कर रही है। अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने आईसीसी को इस मामले में कदम उठाने का आश्वासन दिया था, लेकिन शीर्ष क्रिकेट परिषद ने अभी तक कोई महत्वपूर्ण विकास नहीं देखा है।

बता दें कि तालिबान सरकार ने इसी साल अगस्त से अफगानिस्तान पर पूरी तरह से कब्जा कर लिया है, इसी वजह से वहां के हालात काफी गंभीर हो गए हैं। 2017 में पूर्ण सदस्य का दर्जा प्राप्त करने के बाद, अफगान पुरुष टीम ने दुनिया भर में प्रमुख आयोजनों में हिस्सा लिया है, लेकिन इस मामले में महिला क्रिकेट पीछे रह गई है।

अफगानिस्तान में महिला क्रिकेट की स्थिति को लेकर ICC ने क्या कहा ?

हाल ही में, ICC ने ACB द्वारा की गई प्रगति की समीक्षा के लिए एक कार्य समिति का गठन किया है, लेकिन बहुत अधिक प्रगति देखने को नहीं मिली। ICC के अध्यक्ष ग्रेग बार्कले ने हाल ही में कहा कि धार्मिक और अन्य कारणों से बदलाव में देरी हो रही है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि ICC पुरुष और महिला क्रिकेट दोनों में अपने विभिन्न कार्यक्रमों में अफगानिस्तान की मदद करता रहेगा।

क्रिकबज के हवाले से ग्रेग बार्कले ने कहा कि, “सांस्कृतिक और धार्मिक कारण हैं। यह एक चुनौतीपूर्ण स्थिति है। यह अगस्त से पहले भी था। हम बस इतना कर सकते हैं कि स्थिति की निगरानी जारी रखें। उम्मीद है कि चीजें ठीक हो जाएंगी, हम महिला क्रिकेट को आगे बढ़ते हुए देख पाएंगे।”

उन्होंने आगे कहा कि, “अफगानिस्तान ICC का सदस्य है। हमारी स्थिति यह थी कि हम देश में पुरुषों और महिलाओं दोनों के क्रिकेट कार्यक्रमों में मदद करना चाहते थे। हम ऐसा करना जारी रखेंगे। यह कहने के बाद, किसी भी देश को ICC का सदस्य बने रहने के लिए कुछ मापदंड हैं जिनका उन्हें पालन करने की आवश्यकता है।”