मुंबई इंडियंस के खिलाफ 41वें मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स अपने इन 11 खिलाड़ियो को उतार सकती है - क्रिकट्रैकर हिंदी

मुंबई इंडियंस के खिलाफ 41वें मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स अपने इन 11 खिलाड़ियो को उतार सकती है

Kolkata Knight Riders
Kolkata Knight Riders team celebrates a wicket. (Photo Source: Twitter) and

आईपीएल सीजन 11 का 41वां मैच कोलकाता के इडेन गार्डन में होना है. मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच होना है. दोनों टीमे इस मुकाबले को जीतने के लिए पूरी ताकत झोंकने को तैयार है. लेकिन पिछले मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स को मुंबई इंडियंस ने पटकनी दी है और पूरे फॉर्म में नजर आ रही है. मगर कोलकाता भी इस मुकाबले में जीत दर्ज करने में कोई कसर नही छोड़ने वाली है. क्योंकि कोलकाता मुंबई से एक स्थान ऊपर है. और पॉइंट में भी 2 नंबर से आगे चल रही है. इसलिए वो अपने पायदान से नीचे नही उतरना चाहती है. और 41वें मैच में मुंबई इंडियंस के खिलाफ अपने इन 11 खिलाड़ियो को उतारने की तैयारी में है.

सलामी बल्लेबाज: (क्रिस लीन और सुनील नारायण)

कोलकाता के सलामी बल्लेबाज क्रिस लीन कोलकाता के लिए उतने अच्छे साबित नही हुए सुनील नारायण. टीम की सलामी बल्लेबाजी अच्छी है लेकिन जितनी दर्शकों को उम्मीद थी उतनी नही. लेकिन पिछले मैच में दोनों बल्लेबाज कुछ नही कर सके और 20 रनों की पारी भी नही खेल पाए.

लेकिन नारायण ने 2 विकेट जरूर मुंबई के लिए. और अब अगले मैच के लिए उन्हें तैयार होना होगा ताकि मुंबई की मेजबानी करने के साथ उसे कोलकाता के इडेन गार्डन में पटकनी दे.

मध्य क्रम: (रॉबिन उथप्पा, शुभमन गिल, नीतीश राना और दिनेश कार्तिक)

कोलकाता की मध्य क्रम की बल्लेबाज़ी बहुत बहुत ही अच्छी है पिछले मैच में मुंबई के खिलाफ कोलकाता के मध्यक्रम के बल्लेबाजों ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया. लेकिन शुभमन गिल मुंबई के खिलाफ निराश करके शुभमन गिल ने 7 रनों की पारी खेली लेकिन बाकी तीन बल्लेबाज रॉबिन उथप्पा, नितीश राणा और दिनेश कार्तिक ने मिलकर 121 रन बनाया जो कि बहुत ही अच्छा था.

वही अगला मैच भी मुंबई के खिलाफ होना है शुभमन गिल थोड़ा परफॉर्म नहीं दे पा रहे हैं मगर अगले मैच में उन्हें अपने परफॉर्मेंस में सुधार लाना होगा तभी मुंबई इंडियंस पर अपना जीत दर्ज करेगी क्योंकि मुंबई इंडियन ने पिछले मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स को हरा दिया था.

ऑल राउंडर: (आंद्रे रसेल)

आंद्रे रसेल को सीजन 11 में टीम में ज्यादा खेलने का मौका नहीं मिला और वो टीम में अपने अच्छे प्रदर्शन भी नहीं कर रहे हैं. पिछले मैच की बात करें तो मुंबई इंडियंस के खिलाफ भी आंद्रे रसेल ने कुछ खास पारी नहीं खेली थी और 10 गेंद पर 9 रन बनाकर पवेलियन लौट गए लेकिन उन्हें यह ध्यान में रखना होगा कि मध्यक्रम की बल्लेबाजी में थोड़ा सा परिवर्तन लाकर टीम का मनोबल बढ़ाएं.

गेंदबाज: (प्रसिद्ध कृष्णा, कुलदीप यादव, पीयूष चावला और मिचेल जॉनसन)

कोलकाता की गेंदबाजी अब अपने लय में आ गई है और गेंदबाज भी बल्लेबाजों को रन ज्यादा नहीं बटोरने दे रहे हैं. लेकिन पिछला मैच जो मुंबई के खिलाफ खेला गया उसमें कोलकाता के गेंदबाज पूरी तरह फ्लॉप नजर आएं क्योंकि कोलकाता के गेंदबाजों को लेकर मुंबई का सामना करना भारी पड़ गया.

लेकिन गेंदबाजों की जगह मध्यक्रम के बल्लेबाजों ने गेंदबाजी कर अपना जौहर दिखाया. ऐसे में सवाल उठता की जिन्हें गेंदबाजी का मौका दिया गया है और वह लोग ही एक भी विकेट न ले तो स्वभाविक ही सुरक्षित टीम का मनोबल और ज्यादा बढ़ जाएगा. इस सीजन में मुंबई के खिलाफ गेंदबाजी करते हुए रसेल ने 2 ओवर में 2 विकेट भी लिए है. अब कोलकाता नाइट राइडर्स से भिड़ने को सभी तैयार है