महेंद्र सिंह धोनी ने कोलकाता नाईट राइडर्स के खिलाफ मिली हार के बाद रवीन्द्र जड़ेजा को लेकर दिया बड़ा बयान - क्रिकट्रैकर हिंदी

महेंद्र सिंह धोनी ने कोलकाता नाईट राइडर्स के खिलाफ मिली हार के बाद रवीन्द्र जड़ेजा को लेकर दिया बड़ा बयान

Chennai Super Kings
Chennai Super Kings team celebrates a wicket. (Photo Source: Twitter)

इंडियन प्रीमियर लीग के 11 वें सीजन के 33 वें मैच में कोल्कत नाईट राइडर्स ने इस सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स से मिली हार का बदला अपने होम ग्राउंड में कल ले लिया जिसमें केकेआर की टीम ने चेन्नई सुपर किंग्स को इस मैच में 6 विकेट से हराकर आईपीएल के इस सीजन में अपनी पांचवीं जीत दर्ज़ की.

कोलकाता नाईट राइडर्स के लिए इस मैच में ऑफ स्पिन गेंदबाज़ सुनील नारायण ने एकबार फिर से अपनी गेंदबाज़ी के साथ बल्लेबाज़ी में भी टीम के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया. सुनील ने पहले 4 ओवर की गेंदबाजी में सिर्फ 20 रन देकर 2 विकेट झटके तो वहीँ बल्लेबाजी के दौरान उन्होंने 20 गेंदों में 32 रनों की शानदार पारी खेली.

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जिनकी टीम इस सीजन में अभी तक काफी अच्छा प्रदर्शन कर रही है और उसका प्लेऑफ में भी पहुंचना लगभग तय है, लेकिन इस मैच में में हार के बाद कप्तान धोनी अपनी टीम के फील्डरों से बेहद नाराज नजर आयें क्योंकिं इसी वजह से उनकी टीम को इस मैच में हार का सामना करना पड़ा है.

इस मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को पहले बल्लेबाज़ी करने का मौका मिला था जिसमें उन्होंने 20 ओवर के खत्म होने पर 177 रन बना लिए थे. धोनी ने एकबार फिर से इस मैच में अपनी टीम के लिए आक्रामक पारी खेलकर इस स्कोर तक पहुँचाने में विशेष योगदान दिया था.

जड़ेजा ने छोड़े 1 ओवर में 2 कैच

रवीन्द्र जड़ेजा जिन्हें इस समय अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी काफी शानदार फील्डर माना जाता है और मैदान में मुस्तैदी को देखते ही बनता है जिसका अंदाज़ा बल्लेबाजों को भी रहता है कि उनके पास गेंद जाने पर रन को संभलकर ही लेना है. पिछले मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ रवीन्द्र जड़ेजा को मैच में सबसे अच्छा कैच पकड़ने के लिए परफेक्ट कैच ऑफ दी मैच मैच का अवार्ड भी मिला था.

लेकिन कल कोलकाता के खिलाफ़ रवीन्द्र जड़ेजा ने केए. आसिफ के एक ओवर में सुनील नारायण के 2 बेहद आसान से कैच को छोड़ दिया जिसका असर ये हुआ कि चेन्नई सुपर किंग्स जो इस मैच में दबाव बना सकती वह नहीं बन सका और केकेआर की टीम यहीं से इस मैच में हावी होती चली गयीं.धोनी ने इस मैच में बाद हार कि वजह इसी करना को बताया साथ ही उन्होंने माइक हसी का भी उदाहरण दिया जो हर समय फील्ड में सतर्क रहते थे.

माइक हसी जैसा चाहिए कमिटमेंट

केकेआर के खिलाफ मिली हार के बाद महेंद्र सिंह धोनी ने इस मैच के बाद कहा कि “मुझे इस बता की सबसे अधिक निराशा हुयीं कि खिलाड़ी मैदान में पूरी तरह से सतर्क नहीं थे आप बहुत अच्छे फिल्डर ना हो लेकिन आप को फिल्ड में हर समय सतर्क रहना पड़ेगा. माइक हसी इसके सबसे बड़े उदहारण है जिन्होंने ने चेन्नई सुपर किंग्स के लिए इससे पहले खेला है वह एक बहुत अच्छे फिल्डर नहीं थे लेकिन काफी फील्ड में हर समय मुस्तैद रहते थे और मैं अपने खिलाड़ियों से इसी तरह की कमिटमेंट चाहता हूँ.”

अपने इस बयान में धोनी ने सीधे तौर पर जड़ेजा की तरफ निशाना नहीं साधा लेकिन उन्होंने ये जरुर कहा कि “यदि कोई अच्छी गेंदबाज़ी नहीं कर रहा है तो उसे बदला जा सकता है लेकिन यदि कोई फील्ड में ही अच्छा नहीं कर रहा है उसके लिए क्या किया जा सकता है.”