IPL 2022: कोच अनिल कुंबले नहीं, किसी और ही वजह से केएल राहुल ने छोड़ा पंजाब का साथ - क्रिकट्रैकर हिंदी

IPL 2022: कोच अनिल कुंबले नहीं, किसी और ही वजह से केएल राहुल ने छोड़ा पंजाब का साथ

केएल राहुल के बाद आईपीएल 2022 के लिए पंजाब किंग्स ने मयंक अग्रवाल को अपने नए कप्तान के रूप में चुना है।

KL Rahul. (Photo Source: IPL/BCCI)
KL Rahul. (Photo Source: IPL/BCCI)

इंडियन प्रीमियर लीग के (IPL) 15वें सीजन की शुरुआत में एक हफ्ते से भी कम समय बचा है। यह सीजन फैंस के लिए काफी रोमांचक साबित होने वाला है क्योंकि इस सीजन में दो नई फ्रेंचाइजी के साथ कुल 10 टीमें खेलती हुई नजर आएगी। नई फ्रेंचाइजी लखनऊ सुपर जायंट्स (LSG) ने अपनी टीम की कमान पंजाब किंग्स के पूर्व कप्तान केएल राहुल के हाथों में सौंपी है।

केएल राहुल ने PBKS के लिए बतौर कप्तान कुछ खास कमाल नहीं कर पाए थे। हालांकि बतौर बल्लेबाज पंजाब की तरफ से उन्होंने सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल के साथ शानदार साझेदारी भी की थी। राहुल ने IPL 2022 से पहले फ्रेंचाइजी को छोड़ने का फैसला किया था। पंजाब किंग्स ने IPL -2022 के लिए अपने नए कप्तान के रूप में मयंक अग्रवाल को चुना है।

टूर्नामेंट की शुरुआत से पहले दांए हाथ के बल्लेबाज ने खुलासा किया कि वह एक चैलेंज लेना चाहते थे इसलिए राहुल ने पंजाब को उन्हें न रिटेन करने का आग्रह किया था। हालांकि नीलामी से पहले राहुल को नई फ्रेंचाइजी LSG द्वारा ड्रॉफ्ट के माध्यम से चुन लिया गया था।

“मेरे लिए यह एक कठिन फैसला था”- केएल राहुल

राहुल ने रेड बुल क्रिकेट से बात करते हुए कहा कि, “मैं उनके साथ चार साल से था और मैंने उनके साथ बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है। मैं बस यह देखना चाहता था कि मेरे लिए क्या है और क्या मेरे लिए कोई नई यात्रा है? जाहिर तौर पर यह एक कठिन फैसला था। मैं लंबे समय से पंजाब से जुड़ा हुआ था। मैं देखना चाहता था कि क्या मैं कुछ और कर सकता हूं।”

आपकों बता दें कि पंजाब की फ्रेंचाइजी ने मेगा ऑक्शन से पहले अपने दो खिलाड़ियों को रिटेन  किया था जिसमें मयंक अग्रवाल और तेज गेंदबाज अर्शदीप सिंह शामिल थे। PBKS के मुख्य कोच अनिल कुंबले ने राहुल के इस फैसले को लेकर बयान दिया था।

कुंबले ने स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत में कहा था कि,  “हम राहुल को रिटेन करना चाहते थे। हमने दो साल पहले उनको कप्तान के रूप में चुना था। लेकिन उन्होंने ऑक्शन में जाने का फैसला लिया, हम उनका और उनके इस फैसले का सम्मान करते हैं. यह हर खिलाड़ी का अधिकार होता है।”