बड़े टूर्नामेंट से पहले क्रुणाल पंड्या ने छोड़ी बड़ौदा की कप्तानी - क्रिकट्रैकर हिंदी

बड़े टूर्नामेंट से पहले क्रुणाल पंड्या ने छोड़ी बड़ौदा की कप्तानी

केदार देवधर को बनाया जा सकता है बड़ौदा का अगला कप्तान।

Krunal Pandya
Krunal Pandya. (Photo Source: Twitter)

भारतीय ऑलराउंडर क्रुणाल पांड्या ने बड़ौदा टीम की कप्तानी छोड़ दी है।। 30 वर्षीय क्रुणाल ने 26 नवंबर को एक ईमेल के माध्यम से बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन (BCA) के अध्यक्ष प्रणव अमीन के सामने अपना फैसला रखा। अहमदाबाद में जन्मे पांड्या ने आखिरी बार सैयद मुश्ताक ट्रॉफी के 20221-22 संस्करण में टीम का नेतृत्व किया था।

पांड्या के नेतृत्व में बड़ौदा का अभियान निराशाजनक रहा था, उनकी टीम एलीट ग्रुप बी में पांच में से केवल एक मैच जीतने में सफल रही। छत्तीसगढ़ पर छह विकेट से जीत के अलावा, टीम काफी हद तक तनाव में रही थी। पांड्या खुद 20.75 की औसत से मात्र 83 रन बनाए थे और 5.94 की इकॉनमी रेट से मात्र छह विकेट ही झटक पाए।

इंडियन एक्सप्रेस के रिपोर्ट के मुताबिक क्रुणाल पांड्या ने ईमेल में लिखा कि, “मैं मौजूदा घरेलू सत्र में बड़ौदा का नेतृत्व करने के लिए उपलब्ध नहीं रहूंगा। हालांकि, मैं टीम के चयन के लिए उपलब्ध रहूंगा। मैं बड़ौदा क्रिकेट को टीम के सदस्य और खिलाड़ी के रूप में अपना सर्वश्रेष्ठ दूंगा। मेरा समर्थन और योगदान हमेशा टीम के हित में रहेगा।”

केदार देवधर को बनाया जा सकता है बड़ौदा का अगला कप्तान

नवीनतम रिपोर्टों के अनुसार, बड़ौदा की टीम केदार देवधर को अगले कप्तान के रूप में नियुक्त कर सकती है, वहीं बाएं हाथ के स्पिनर भार्गव भट्ट को उपकप्तान बनाया जा सकता है। आगामी विजय हजारे ट्रॉफी से पहले इन दोनों को नेतृत्व के पदों पर नियुक्त किया जाना तय माना जा रहा है। केदार देवधर के पास पहले से ही कप्तानी करने का अनुभव है।

पांड्या को दो सत्र पहले उनके कप्तान के रूप में नियुक्त किया गया था, लेकिन कप्तानी के दौरान उनका कार्यकाल अधिक सुखद नहीं रहा था। पिछले साल, उन्हें दीपक हुड्डा से प्रतिक्रिया का सामना करना पड़ा, जिन्होंने उन पर अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया था। इसके बाद हुड्डा राजस्थान की टीम में चले गए थे।