ऑस्ट्रेलियाई टीम के टी-20 वर्ल्ड कप विजेता बनने के बाद शोएब अख्तर को नहीं भाया उनका इस तरह से जश्न मनाने का तरीका - क्रिकट्रैकर हिंदी

ऑस्ट्रेलियाई टीम के टी-20 वर्ल्ड कप विजेता बनने के बाद शोएब अख्तर को नहीं भाया उनका इस तरह से जश्न मनाने का तरीका

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने टी-20 वर्ल्ड कप 2021 की ट्रॉफी जीतने के बाद जश्न मनाते हुए जूते के अंदर बियर डालकर पी थी।

Shoaib Akhtar and Matthew Wade (Photo Source - Twitter)
Shoaib Akhtar and Matthew Wade (Photo Source – Twitter)

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 के फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 8 विकेट से एकतरफा जीत दर्ज करने के बाद पहली बार इस खिताब को अपने नाम करने में कामयाबी हासिल की। 14 नवंबर को खेले गए इस महा-मुकाबले का आयोजन दुबई अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में किया गया था। जिसमें जीत हासिल करने के बाद ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के जश्न मनाने के तरीके पर अब पाकिस्तानी टीम के पूर्व खिलाड़ी शोएब अख्तर ने सवाल खड़े कर दिए हैं।

दरअसल जीत हासिल करने के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाड़ी काफी खुश नजर आए और इस दौरान उन्होंने अपने ड्रेसिंग रूम के अंदर जश्न मनाते हुए जूते के अंदर बियर डालकर पी जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर भी काफी तेजी के साथ वायरल होते हुए देखने को मिला।

शोएब अख्तर ने इस वीडियो को ट्वीट करते हुए लिखा कि, इस तरह से से जश्न मनाने का तरीके बेहद खराब है। इस मेगा इवेंट के शुरू होने से पहले किसी ने भी ऑस्ट्रेलियाई टीम के फॉर्म को देखते हुए यह उम्मीद नहीं जताई थी कि वह विजेता बनकर सामने आएगी। लेकिन उन्होंने सभी को गलत साबित करते हुए फाइनल तक का सफर तय करने के साथ खिताब भी अपने नाम किया।

यह पूरी टीम की जीत है – जस्टिन लैंगर

ऑस्ट्रेलियाई टीम की इस सफलता का श्रेय टीम के मुख्य कोच जस्टिन लैंगर को जाता है, जिनके ऊपर इस टूर्नामेंट से पहले काफी सवाल भी खड़े किए जा रहे थे। जिसमें यह भी खबरें निकलकर सामने आई थी कि टीम के कई खिलाड़ियों के साथ उनके संबंध बेहतर नहीं हैं।

हालांकि टीम को विजेता बनाने के बाद जस्टिन लैंगर ने अपने बयान में कहा कि, हमारे लिए यहां तक का सफर तय करना आसान काम नहीं था, लेकिन टीम में मौजूद सभी खिलाड़ियों ने अपना बेहतर प्रदर्शन लगातार करने की कोशिश की। यह हमारी पूरी टीम की जीत है जिसमें सभी ने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

लैंगर ने अपने बयान में आगे कि, इस टीम में शामिल अधिकतर खिलाड़ियों को पिछले 1 साल में कई कारणों की वजह से एक साथ खेलने का अधिक मौका नहीं मिला। लेकिन जब सभी एक साथ तो टीम में एक अलग तरह की ऊर्जा साफतौर पर देखने को मिली। हमें पता था कि जब हम अपनी पूरी क्षमता के साथ मैदान पर खेलने उतरेंगे तो हम क्या कर सकते हैं। इन हालाातों में जहां हम बायो-बबल को लेकर अधिकतर बातों को सुनते हैं, तो वहीं हमारे खिलाड़ियों ने मैदान के अंदर और बाहर पूरी तरह से एंजॉय किया।