हार्दिक पांड्या की कप्तानी के मुरीद होकर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने उनकी तुलना धोनी के साथ की - क्रिकट्रैकर हिंदी

हार्दिक पांड्या की कप्तानी के मुरीद होकर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने उनकी तुलना धोनी के साथ की

मोहम्मद शमी ने हार्दिक की कप्तानी की तुलना धोनी से की।

My Role Changes When Shubman Gill Gets Out Early: Hardik Pandya (Photo Source: IPL/BCCI)
My Role Changes When Shubman Gill Gets Out Early: Hardik Pandya (Photo Source: IPL/BCCI)

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2022 की नई फ्रेंचाइजी गुजरात टाइटंस (GT) के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का मानना है कि कप्तान हार्दिक पांड्या ने अपनी कप्तानी की भूमिका बखूबी निभाई है। पांड्या अपने IPL करियर में पहली बार कप्तानी कर रहे हैं और उनका प्रदर्शन कप्तान के तौर पर काफी सराहनीय रहा है।

बता दें कि गुजरात फ्रेंचाइजी का भी यह पहला आईपीएल संस्करण है और वो अपने पहले ही संस्करण में प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर चुकी है। गुजरात पहली टीम है जिसने आईपीएल 2022 के प्लेआफ के लिए क्वालीफाई किया है। गुजरात ने अभी तक 13 मुकाबले खेले हैं जिसमें उसने 10 में जीत दर्ज की है और 20 अंकों के साथ वो अंकतालिका के शीर्ष पर विराजमान है। पांड्या ने भी चोटिल होने के बाद आईपीएल 2022 में वापसी की है।

हार्दिक पांड्या के व्यक्तित्व में बदलाव का कारण मोहम्मद शमी ने बताया

गुजरात टाइटंस की अगुवाई करने से पहले हार्दिक ने आईपीएल में बतौर खिलाड़ी कई सीजन खेले हैं। इसमें एक बात जो फैंस सबसे अच्छे से उनके बारे में कह सकते हैं, वो यह कि हार्दिक पांड्या को मैदान पर अक्सर जोशीले अंदाज में विकेट या जीत का जश्न मनाते हुए देखा जाता था। हालांकि, कप्तान बनने के बाद से उनके इस जोशीले अंदाज में कमी आई है और वह सिर्फ मुस्कुराकर या शांत रहकर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं।

पांड्या के व्यक्तित्व में बदलाव और उनकी कप्तानी को लेकर गुजरात टाइटंस के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने विस्तार से बात की। हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, शमी ने कहा, “जब से हार्दिक पांड्या कप्तान बने हैं, तब से वो काफी सामान्य हो गए हैं। वो काफी शांत भी रहने लगे हैं। मैंने उनको कहा है कि अपनी भावनाओं को मैदान पर नियंत्रण में रखा कीजिए क्योंकि पूरी दुनिया आपको देख रही है। जब आप किसी टीम का नेतृत्व कर रहे हों तो आपको हर फैसला लेने से पहले काफी कुछ सोचना पड़ता है और उन्होंने अपने इस काम को बखूबी निभाया है।”

इसके अलावा शमी ने हार्दिक की कप्तानी की तुलना महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली से करते हुए कहा कि हर कप्तान का टीम को मुकाबले जिताने का एक नजरिया होता है। जब टूर्नामेंट में उनके प्रदर्शन को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि, जहां तक मेरे प्रदर्शन का सवाल है तो मैंने हमेशा अपना बेहतर देना चाहा है। अगर पिछले चार संस्करणों की बात की जाए तो किसी भी खिलाड़ी ने मुझसे ज्यादा विकेट नहीं चटकाए हैं। कप्तान जब भी मुझे जिम्मेदारी देंगे, मैं अपना शत-प्रतिशत योगदान दूंगा।