in

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैन ऑफ द सीरीज बनने के साथ महेंद्र सिंह धोनी ने बनाए ये अनोखे रिकॉर्ड

आलोचकों की बोलती कर दी बंद

MS Dhoni
MS Dhoni (Photo by Mark Metcalfe/Getty Images)

ऋषभ पंत ने जब से अच्छा प्रदर्शन शुरू कर दिया है तब से महेंद्र सिंह धोनी के आलोचक कुछ ज्यादा ही बोलने लगे थे। धोनी खामोश रहते हैं और इस बार भी उन्होंने अपने प्रदर्शन से आलोचकों की बोलती बंद कर दी है।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुई वनडे सीरिज के तीनों मैचों में धोनी का प्रदर्शन ऐतिहासिक रहा। धोनी ने इस सीरीज़ में सिडनी वनडे में 51, एडिलेड में नाबाद 55 और मेलबर्न में नाबाद 87 रन बनाए। इस तरह उन्होंने सीरीज़ में 193 की औसत से रन बनाए और दिखा दिया की उनमें अभी दम है। वीरेन्द्र सहवाग ने हाल ही में धोनी के बारे में ट्वीट किया था कि पिक्चर अभी बाकी है मेरे दोस्त, और धोनी ने सहवाग को सही साबित कर दिया।

धोनी ने कुछ अनोखे रिकॉर्ड भी बना दिए हैं जिन पर डालते हैं एक नजर:

लगातार तीन अर्धशतक
धोनी ने इस सीरिज में लगातार तीन अर्धशतक बनाए। वनडे सीरिज में लगातार तीन अर्धशतक बनाने का धोनी का यह तीसरा मौका है। इसके पहले उन्होंने 2011 में इंग्लैंड में इंग्लैंड के खिलाफ उन्होंने ऐसा किया था। 2014 में न्यूजीलैंड में न्यूजीलैंड के खिलाफ यह कारनामा किया था। तीनों बार धोनी ने ऐसा विदेशी धरती पर किया है।

सिर्फ युवराज और सचिन आगे
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुई वनडे सीरिज में धोनी को मैन ऑफ द सीरिज चुना गया। उन्होंने अपने करियर में वनडे में छठवीं बार प्लेयर ऑफ द सीरीज अवॉर्ड जीता है। अब धोनी कप्तान विराट कोहली और सौरव गांगुली की बराबरी पर आ गए हैं। उनसे आगे युवराज सिंह और सचिन तेंडुलकर हैं।

सफलतम रन चेज़
सभी जानते हैं कि चेज़िंग के मामले में धोनी का कोई सानी नहीं है। इसलिए उन्हें बेस्ट फिनिशर कहा जाता है। धोनी 112 बार वनडे में सफलतम रन चेज का हिस्सा रहे हैं। उनसे आगे सिर्फ सचिन तेंदुलकर हैं। सचिन 127 बार सफलतम रन चेज का हिस्सा रहे हैं।

धोनी को सीरिज में चौथे या पांचवें क्रम पर खेलाया गया और उन्होंने उपयोगिता साबित कर दी। विश्व कप में शायद उन्हें ऊपरी क्रम पर ही खिलाया जाएगा।

Virat Kohli

रवि शास्त्री ने विराट कोहली के बारे में कही ऐसी बात जिसे जान चौंक जाएंगे आप

MS Dhoni

हुआ खुलासा, बल्ले में छिपा है महेंद्र सिंह धोनी की सफलता का राज