in

कीवी बल्लेबाज जेम्स नीशम ने एक ओवर में पांच छक्के जड़े, श्रीलंका के गेंदबाज़ हुए पस्त

श्रीलंका के खिलाफ खेली तूफानी पारी

Neesham
James Neesham. (Photo by Phil Walter/Getty Images)

ताबड़तोड़ क्रिकेट में बल्लेबाज कई बार हैरतअंगेज प्रदर्शन कर जाते हैं और न्यूजीलैंड के ऑलराउंडर जेम्स नीशम ने ऐसा ही काम किया। श्रीलंका के खिलाफ माउंट मंगनुई में हुए एकदिवसीय मैच में नीशम ने मात्र 13 गेंदों में 47 रन ठोंक दिए। इस पारी में उन्होंने 6 छक्के लगाए जिसमें से 5 छक्के तो उन्होंने थिसारा परेरा के एक ही ओवर में लगा दिए थे।

बेचारे परेरा समझ नहीं पा रहे थे कि इस कीवी ऑलराउंडर को गेंद कहां फेंके। जेम्स नीशम तो हर गेंद को मैदान से बाहर मारने के मूड में थे। जेम्स की तेजतर्रार पारी की बदौलत न्यूजीलैंड ने श्रीलंका को 45 रनों से हरा दिया।

इस मैच में बल्लेबाजों का बोलबाला रहा। मार्टिन गुप्टिल के शतक (138 रन) की बदौलत न्यूजीलैंड ने 50 ओवर्स में 7 विकेट पर 371 रन बनाए। कप्तान केन विलियम्सन ने 76 रनों का योगदान दिया। रॉस टेलर ने 54 रन बनाए।

सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे नीशम ने तेज 47 रन बनाए।  इस तरह उन्होंने अपनी टीम को बड़े स्कोर तक जाने में मदद की। श्रीलंका को मैच जीतने के लिए 372 रनिं का लक्ष्य मिला।

बड़े लक्ष्य के दबाव में दब गई श्रीलंका :

372 रन का टारगेट हासिल करने उतरी श्रीलंका टीम ने भी जोरदार शुरुआत की। श्रीलंका की ओर से कुशल परेरा ने 102 रन बनाए। निरोशन डिकवाला ने 76 रन बनाए। लेकिन कोई नीशम जैसी जोरदार बल्लेबाजी नहीं कर पाया और यही निर्णायक साबित हुआ। 49 ओवर्स में श्रीलंका 326 रन बना कर 45 रनों से हर गई।

नीशाम ने गेंदबाजी में भी हाथ दिखाए। उन्होंने आठ ओवर्स में 38 रन खर्च कर 3 महत्वपूर्ण विकेट हासिल किए। कहने की बात नहीं कि मैन ऑफ द मैच उन्हें ही मिला।

यह श्रीलंका और न्यूजीलैंड के बीच सीरीज़ का पहला एकदिवसीय मैच था और न्यूजीलैंड ने बढ़त बना ली है। हालांकि न्यूजीलैंड मैच जीता, लेकिन श्रीलंका ने भी जोरदार टक्कर दी है। जिस तरह श्रीलंका ने यह मैच खेला है, उससे लग रहा है कि सीरीज़ में आने वाले मैचों में जोरदार मुकाबला देखने को मिलेगा।

Nathan Lyon

सिडनी मैदान फतह करने के लिए दूसरे दिन भारत को बनाने होंगे और 200 रन, अब पिच का बदलेगा मिजाज़

Cheteshwar PujaraIndia भारत चेतेश्वर पुजारा

चेतेश्वर पुजारा ने क्रिकेट की दुनिया में यह मुकाम इस तरह पाया, सब हुए कायल