कोरोना की वजह से न्यूजीलैंड के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर आई बड़ी संकट, प्रमुख कीवी खिलाड़ी हो सकते हैं दौरे से बाहर - क्रिकट्रैकर हिंदी

कोरोना की वजह से न्यूजीलैंड के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर आई बड़ी संकट, प्रमुख कीवी खिलाड़ी हो सकते हैं दौरे से बाहर

न्यूजीलैंड को 30 जनवरी से 8 फरवरी के बीच तीन वनडे और एक टी-20 मैच खेलने के लिए ऑस्ट्रेलिया का दौरा करना है।

New Zealand cricket. (Photo by INDRANIL MUKHERJEE/AFP via Getty Images)
New Zealand cricket. (Photo by INDRANIL MUKHERJEE/AFP via Getty Images)

न्यूजीलैंड इस समय बे ओवल में बांग्लादेश के खिलाफ पहला टेस्ट मैच खेल रहा है। इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 वर्ल्ड कप 2021 के सेमीफाइनल के बाद से अपना पहला अंतरराष्ट्रीय खेल खेलने वाले डेवोन कॉनवे के शानदार शतक की बदौलत न्यूजीलैंड ने टॉस हारने के बाद पहली पारी में 328 रन बनाए।

बांग्लादेश के खिलाफ इस दो मैचों की सीरीज के पूरा होने के बाद, कीवी टीम को 30 जनवरी से 8 फरवरी तक तीन एकदिवसीय और एक टी-20 मैच खेलने के लिए ऑस्ट्रेलिया का दौरा करना है। साथ ही, न्यूजीलैंड 17 फरवरी से शुरू होने वाले दो टेस्ट मैचों के लिए दक्षिण अफ्रीका की मेजबानी करेगा।

टिम साउदी और ट्रेंट बोल्ट जैसे कुछ बड़े खिलाड़ियों को छोड़ना पड़ सकता है ऑस्ट्रेलिया सीरीज

न्यूजीलैंड ने देश में प्रवेश करने वाले यात्रियों के लिए सात-दिवसीय क्वारंटाइन को आवश्यक बना दिया है, जिसके बाद नौवें दिन नकारात्मक कोविड परिणाम प्राप्त होने के बाद उन्हें अपने घर भेज दिया जाएगा। Stuff.co.nz की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अगर ये नियम अगले पांच हफ्तों तक देश में बने रहते हैं, तो 9 फरवरी को ऑस्ट्रेलिया से वापस आने वाले खिलाड़ी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में हिस्सा नहीं ले पाएंगे।

टॉम लैथम, हेनरी निकल्स, काइल जेमीसन, टिम साउदी और ट्रेंट बोल्ट के साथ डेवोन कॉनवे, जो सभी बांग्लादेश के खिलाफ चल रहे पहले टेस्ट का हिस्सा हैं, वो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज मिस कर सकते हैं। न्यूजीलैंड को केन विलियमसन की भी कमी खलेगी, जो कोहनी की चोट से उबर रहे हैं। उन्हें भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट और बांग्लादेश ही सीरीज से बाहर कर दिया गया था।

डेरिल मिचेल और मैट हेनरी, जो बांग्लादेश के खिलाफ न्यूजीलैंड की टीम का हिस्सा हैं, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टीम में शामिल हो सकते हैं। लेकिन, अगर न्यूजीलैंड बांग्लादेश के खिलाफ अगले टेस्ट में इन दोनों को शामिल नहीं किया जाता है और वो दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ प्लेइंग-11 में जगह बनाने की दावेदारी में नहीं हैं, तो दोनों को ऑस्ट्रेलिया भेजा जा सकता है।