भारतीय टीम के नए टी-20 कप्तान रोहित शर्मा के साथ युजवेंद्र चहल ने बताया क्यों है उनका रिश्ता बेहद खास - क्रिकट्रैकर हिंदी

भारतीय टीम के नए टी-20 कप्तान रोहित शर्मा के साथ युजवेंद्र चहल ने बताया क्यों है उनका रिश्ता बेहद खास

रोहित और चहल की पहली बार मुलाकात साल 2010 में हुई थी।

Rohit Sharma and Yuzvendra Chahal. (Photo Source: Twitter)
Rohit Sharma and Yuzvendra Chahal. (Photo Source: Twitter)

टी-20 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम का सफर समाप्त होने के साथ अब टीम की नजर फिर से एक नई शुरुआत करने पर है, ताकि एक साल से भी कम समय में होने वाले अगले टी-20 वर्ल्ड कप में बेहतर प्रदर्शन किया जा सके। भारतीय टीम घरेलू जमीन पर न्यूजीलैंड के खिलाफ 3 मैचों की टी-20 सीरीज खेलने की तैयारी कर रही है, जिसमें टीम इंडिया के नए कप्तान के तौर पर रोहित शर्मा दिखेंगे तो वहीं मुख्य कोच की भूमिका में राहुल द्रविड़ दिखने वाले हैं।

साल 2007 में डेब्यू करने वाले रोहित शर्मा को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का काफी अनुभव हासिल है और इसी कारण विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने के बाद इस पद को संभालने की उनकी पूरी संभावना थी। रोहित बतौर बल्लेबाज इस समय क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में सबसे खतरनाक बल्लेबाजों में शुमार किए जाते हैं।

जहां एक तरफ रोहित से कप्तान के तौर पर सभी को काफी ज्यादा उम्मीद है, वहीं लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल जिनकी एकबार फिर से टी-20 टीम में वापसी देखने को मिली उन्होंने नए टी-20 कप्तान रोहित शर्मा के साथ अपने रिश्ते को लेकर खुलकर बात की है। इसमें चहल ने कहा कि उनका और रोहित का रिश्ता क्रिकेट से भी कहीं बढ़कर है। बता दें कि साल 2010 में इन दोनों ही खिलाड़ियों की पहली मुलाकात उस समय हुई थी जब रोहित और चहल आईपीएल में मुंबई इंडियंस टीम का हिस्सा थे।

रोहित शर्मा मुझे अपने छोटे भाई की तरह रखते हैं

युजवेंद्र चहल ने टाइम्स ऑफ इंडिया के साथ बातचीत करते हुए कहा कि, मेरा रोहित के साथ हमेशा एक खास तरह का रिश्ता रहा है, जिसमें हम एक परिवार की तरह हैं। रोहित या फिर रितिका भाभी हों, दोनों मुझे अपने छोटे भाई की तरह ही ख्याल रखते हैं। हम दोनों अक्सर साथ में ही बाहर डिनर करने के लिए भी जाते रहते हैं।

वहीं, चहल ने इस दौरान साल 2019 के वनडे वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ मैच में बाबर आजम को आउट करने की तरकीब के बारे में खुलासा करते हुए बताया कि, जब भी मैं मैदान पर होता हूं तो अपने साथी खिलाड़ियों के साथ विचारों को साझा करता रहता हूं, जिसमें मैंने उस मैच में कुलदीप को एक एंड से गेंद फेंकने की सलाह दी जिसके बाद वह बाबर का विकेट निकालने में सफल रहे।

भारतीय टीम को न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज का पहला मैच जयपुर के मैदान पर खेलना है, जिसमें एकबार फिर से सभी की नजरें युजवेंद्र चहल के प्रदर्शन पर टिकी रहने वाली हैं।